एक तरफ़ खेल सम्मान, दूसरी तरफ़ खिलाडि़यों से खिलवाड़

बिहार लोक संवाद डाॅट नेट

हर साल 29 अगस्त को अंतराष्ट्रीय खेल दिवस मनाया जाता है। इस अवसर पर देश भर में खिलाडि़यों को सम्मानित किया जाता है। बिहार की राजधानी पटना में भी खेल सम्मान समारोह का आयोजन करके खिलाडि़यों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद मौजूद थे।

लेकिन बिहार में खेल और खिलाडि़यों के हालात का एक पहलू और भी है। पटना के राजेन्द्र नगर स्थित फिजि़कल काॅलेज में 2011 में हाॅकी स्टेडियम का शिलान्यास हुआ था। दस साल बाद इसकी स्थिति आज भी जों की तों है। वहीं, खिलाडि़यों को बेहतर मंच और मेडल जीतने के बावजूद नौकरी नहीं मिल रही है। इससे आहत खिलाडि़यों ने खेल दिवस पर राजधानी की सड़कों पर उतर कर फुटबॉल खेला और अपना विरोध जताया। उन्होंने सरकार के खिलाफ़ नारे लगाए और खिलाडि़यों के भविष्य से खिलवाड़ न करने की अपील की।

खिलाडि़यों के समर्थन में उतरे राजद प्रवक्ता मिर्तुंजय तिवारी ने कहा कि राज्य में खिलाडि़यों का भविष्य अंधकारमय हो गया है।

 

 488 total views

Share Now

Leave a Reply