ख़ाली बोतल से चढ़ा बिहार में सियासत का नशा

बिहार लोक संवाद डॉट नेट

अभी कुछ ही दिनों पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार में शराबबंदी कानून की समीक्षा की थी। इसके बाद से ही पूरे प्रदेश में ताबड़तोड़ छापेमारी का सिलसिला शुरू हुआ था। यहां तक कि पटना में एक विवाह समारोह के दौरान शराब की तलाश में पुलिस बिना महिला कांस्टेबल के एक नई नवेली दुल्हन के कमरे में घुस गई थी। नीतीश कुमार ने 26 नवंबर को इस पुलिस कार्रवाई का समर्थन किया था।

लेकिन 30 नवंबर को जारी सत्र के दौरान बिहार विधानसभा परिसर से बरामद हुई शराब की खाली बोतलों ने सरकार को डिफेंसिव और विपक्ष को हमला आवर बना दिया। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने आरोप लगाया कि नीतीश सरकार शराबबंदी कानून के नाम पर नौटंकी कर रही है। उन्होंने नीतीश से इस्तीफे की मांग भी कर डाली।

मुख्यमंत्री ने विधानसभा परिसर से शराब की खाली बोतलों की बरामदगी को गंभीरता से लिया है। उन्होंने चीफ सेक्रेटरी और डीजीपी को मामले की जांच का आदेश दिया है। वैसे वो साफ कह चुके हैं कि शराबबंदी कानून के अनुपालन में ढिलाई बरतने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।

अब देखना है, हाई सेक्योरिटी जोन में शराब की बोतलें रखने का दोषी कौन पाया जाता है। बिहार लोक संवाद डॉट नेट, पटना।

 445 total views

Share Now

Leave a Reply