महागठबंधन ने जारी किया संकल्प पत्र, पहली कैबिनेट में 10 लाख लोगों को रोजगार देने का वादा

बिहार लोक संवाद ब्यूरो

बिहार विधान सभा चुनाव के लिए महागठबंधन ने ने 17 अक्तूबर को पटना में “प्रण हमारा, संकल्प बदलाव का ” शीर्षक से 25 सूत्री साँझा कार्यक्रम पेश किया।

संकल्प में बिहारवासियों के लिए 10 लाख सरकारी नौकरियाँ, किसानों के लिए कर्ज माफी, किसान विरोधी कृषि बिल को अस्वीकार करना, शिक्षकों के लिए समान काम का समान वेतन, जीविका दीदियों के को मानदेय में बढ़ोतरी के साथ-साथ नियमित वेतन और नौकरी, महँगी बिजली दर को कम करना, पुरानी पेंशन योजना लागू करने, विकास के नए आयाम लिखने जैसे कुल 25 वादों को महागठबंधन ने बिहार की जनता के समक्ष रखा है।

प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने महागठबंधन का संकल्प पत्र जारी करते हुए कहा कि हम 10 लाख लोगों को रोजगार देंगे। यदि जनता मौका देती है तो पहली कैबिनेट में पहला दस्तखत नौकरियों को लेकर करेंगे। तेजस्वी ने कहा कि हमारा संकल्प बदलाव का है। समान काम करने वालों को समान वेतन देंगे। हम पलायन को रोकेंगे. और कर्पूरी श्रम सहायता केंद्र खोला जाएगा. जीविका दीदी के लिए नियमित वेतन दिया जाएगा. हम बिजली की हर समस्या को दूर करेंगे।

तेजस्वी ने मुख्य मंत्री नीतीश कुमार पर आरोप लगाते हुए कहा कि बिहार में डबल इंजन की सरकार है। नीतीश कुमार पिछले 15 वर्षों से राज्य में शासन कर रहे हैं लेकिन इसे अब तक विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिल पाया है। यहां डोनाल्ड ट्रंप आकर समझौते नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी को लेकर लोगों में काफी आक्रोश है। छोटे रोजगार ठप्प हो गए हैं। बिहार में अभी तक साठ घोटाले हो चुके हैं। सृजन घोटाले के मुख्य अभियुक्त अभी भी बाहर घूम रहे हैं।

इस अवसर पर कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला, शक्तिसिन्ह गोहिल सहित अन्य नेता मौजूद रहे।

 478 total views

Share Now

Leave a Reply