नहीं रहे हिन्दू-मुस्लिम एकता को समर्पित अख्तर हुसैन आफताब

बिहार लोक संवाद डाॅट नेट पटना
प्रख्यात शिक्षाविद और पटना सिटी स्थित मोहम्मडन एंग्लो अरेबिक स्कूल के पूर्व शिक्षक डॉ अख्तर हुसैन आफताब का निधन हो गया। वह 86 वर्ष के थे। डॉ. आफताब ने अपने जीवन में हिंदू-मुस्लिम एकता के लिए, राष्ट्रीय एकता के लिए, समाज के दबे कुचले लोगों के लिए बड़े स्तर पर कार्य किया और हमेशा अपने सिद्धांतों के लिए जीते रहे।
एक शिक्षक के तौर पर उन्होंने शिक्षा जगत की बेहतरीन सेवा की। लगभग 40 सालों तक उन्होंने पटना सिटी के मोहम्मडन स्कूल में अपनी सेवा दी। इस दौरान उन्होंने कई पुस्तकें भी लिखीं। सभी पुस्तकों में केंद्र बिंदु इंसानियत और एकता के साथ सद्भावना था।
डॉक्टर आफताब के निधन पर विभिन्न गणमान्य लोगों ने शोक जताया है । गांधी संग्रहालय के सचिव रजी अहमद ने कहा कि डॉक्टर आफताब न केवल उनके मित्र थे बल्कि सामाजिक कार्यों में हमेशा उनके सहयोगी रहे थे। उनका जाना अपूर्ण क्षति है।
बिहार विधान परिषद के पूर्व सभापति डॉ जाबिर हुसैन ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि डॉ. आफताब ने अपने जीवन में इंसानियत की खिदमत की।
कल दोपहर एक बजे दरगाह शाह अर्जां, सुल्तानगंज में जनाजे की नमाज अदा की जाएगी और मोहम्मदपुर कब्रिस्तान में उन्हें सुपुर्दे खाक किया जाएगा।

 344 total views

Share Now

Leave a Reply