सभी जिलों में अल्पसंख्यक आवासीय स्कूल बनाने के लिए होगी जल्दी मीटिंग

बिहार लोक संवाद डॉट नेट
बिहार के सभी जिलों में अल्पसंख्यक आवासीय स्कूल खोलने के लिए जल्द ही शिया और सुन्नी वक्फ बोर्ड की मीटिंग बुलाई जाएगी।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को अल्पसंख्यक कल्याण विभाग की समीक्षा के दौरान यह निर्देश दिया।
फिलहाल सिर्फ दरभंगा के केवटी में अल्पसंख्यक विद्यालय के लिए योजना को मंजूरी मिली है।
मुख्यमंत्री ने सोमवार को अपने आवास एक अणे मार्ग में अल्पसंख्यक कल्याण विभाग की समीक्षा के दौरान और भी कई निर्देश दिए। इस बैठक में अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के मंत्री जमा खान और विभागीय अधिकारी भी मौजूद थे। विभाग की सचिव डॉ. सफीना एएन ने पावर प्रेजेंटेशन से विभाग की गतिविधियों की जानकारी दी।
मुख्यमंत्री ने पटना के मशहूर अंजुमन इस्लामिया हॉल का जल्द से जल्द निर्माण कराने का भी निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि यह बहुत ही ऐतिहासिक भवन है। वर्ष 1934 में स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान उसने मीटिंग हुई थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर जल्द से जल्द इसका निर्माण हो जाता है तो वह बोर्ड की आमदनी भी बढ़ जाएगी।
बिहार राज्य अल्पसंख्यक आवासीय विद्यालय योजना वित्तीय वर्ष 2018-19 में बनाई गई थी।
इस योजना के तहत दरभंगा जिले के केवटी प्रखंड में जिस आवासीय विद्यालय के निर्माण की स्वीकृति मिली है उसके भवन के लिए 56.99 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी गई है। इसके लिए 8.99 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं।
किशनगंज जिले में उपलब्ध कराई गई भूमि पर निर्माण के लिए केर्रवाई की जा रही है। मधेपुरा और शेखपुरा में भी जमीन उपलब्ध कराई गई है। वहां, खेल परिसर के लिए 1 से 2 एकड़ और जमीन की मांग की गई है। पूर्णिया, समस्तीपुर, नालंदा और गया जिले में उपलब्ध कराई गई जमीन पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। बाकी जिलों के लिए जमीन उपलब्ध कराने के लिए वक़्फ़ बोर्ड और डीएम से मांग की गई है।

 816 total views

Share Now

Leave a Reply