व्यावसायिक प्रतियोगी परीक्षा : अल्पसंख्यकों के लिए मुफ्त कोचिंग योजना

बिहार लोक संवाद डॉट नेट
पटना, 21 जनवरी: बिहार लोक सेवा आयोग अन्य तकनीकी एवं व्यावसायिक प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए बिहार सरकार के अल्पसंख्यक विभाग द्वारा कोचिंग कराई जाती है।

यह कोचिंग सेंटर हज भवन पटना के अलावा आरा, दरभंगा, मोतिहारी, किशनगंज और भागलपुर जिलों
में चलाए जा रहे हैं।

इसके लिए मौलाना मजहरूल हक अरबी और फारसी विश्वविद्यालय को नोडल एजेंसी बनाया गया है।

इन कोचिंग सेंटरों पर बिहार लोक सेवा आयोग की परीक्षा, सिपाही भर्ती परीक्षा, टीईटी परीक्षा, फायर ब्रिगेड सिपाही परीक्षा, रेलवे भर्ती बोर्ड की परीक्षा, बैंकिंग परीक्षा, एसएससी परीक्षा, सी-टेट, बी-टेट आदि की तैयारी कराई जाती है।

इसके अलावा यूजीसी द्वारा आयोजित नेट’ व ‘जेआरएफ’ की भी तैयारी कराई जाती है।

अल्पसंख्यक विभाग से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं को समय-समय पर अखबार देखते रहना चाहिए। अखबारों के जरिए इन परीक्षाओं की तैयारी के लिए कोचिंग सेंटर में एडमिशन का टेस्ट लिया जाता है। इस टेस्ट में पास और चयनित छात्र-छात्राओं के लिए रहने और खाने की उत्तम व्यवस्था की जाती है।

अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के सूत्रों के अनुसार वित्तीय 2018-19 में 4777 अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं की कोचिंग कराई गई जिसमें 1517 को कामयाबी मिली। 2019 20 में 860 अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं को बिहार लोक सेवा आयोग की प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा सीटीईटी, बीटीईटी, बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग की अवर निरीक्षक की प्रारंभिक परीक्षा, बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग के अवर निरीक्षक-उत्पाद परीक्षा में सफल उम्मीदवारों की कोचिंग कराई गई है जिसमें 237 को कामयाबी मिली।

वित्तीय वर्ष 2020 21 में 568 अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं को बिहार लोक सेवा आयोग, पुलिस उप निरीक्षक एवं बिहार पुलिस के चयन के लिए इंटरव्यू, फिजिकल ट्रेनिंग और लिखित परीक्षा की तैयारी कराई जा रही है।

 576 total views

Share Now

Leave a Reply