Medical नामा 3: NMCH इमारत की कमी है, इलाज की नहीं

मेडिकलनामा के 3रे एपिसोड में हम जानेंगे एनएमसीएच के बारे में। एनएमसीएच यानी नालन्दा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल पटना का दूसरा मेडिकल कॉलेज है। इसकी चर्चा पीएमसीएच के आगे दबी-दबी रहती है लेकिन मुश्किल घड़ी में यह बहुत काम आता है। कोरोना के सबसे बुरे दौर में यह अपनी सेवा और कमियों- दोनों वजह से चर्चा में रहा। 5 रुपये के पुर्ज़े पर यहां ज़्यादातर इलाज और दवा मिलने की उम्मीद से हर दिन सैंकड़ों लोग यहां पहुंचते हैं। तो कैसा है एनएमसीएच, कैसी है यहां डॉक्टरों और जांच की व्यवस्था। आइये जानते हैं सीधे वहां के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डॉक्टर विनोद कुमार सिंह से। उनसे बात की है बिहार लोक संवाद के कंसल्टिंग एडिटर समीमेडिकलनामा के 3रे एपिसोड में हम जानेंगे एनएमसीएच के बारे में। एनएमसीएच यानी नालन्दा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल पटना का दूसरा मेडिकल कॉलेज है। इसकी चर्चा पीएमसीएच के आगे दबी-दबी रहती है लेकिन मुश्किल घड़ी में यह बहुत काम आता है। कोरोना के सबसे बुरे दौर में यह अपनी सेवा और कमियों- दोनों वजह से चर्चा में रहा। 5 रुपये के पुर्ज़े पर यहां ज़्यादातर इलाज और दवा मिलने की उम्मीद से हर दिन सैंकड़ों लोग यहां पहुंचते हैं। तो कैसा है एनएमसीएच, कैसी है यहां डॉक्टरों और जांच की व्यवस्था। आइये जानते हैं सीधे वहां के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डॉक्टर विनोद कुमार सिंह से। उनसे बात की है बिहार लोक संवाद के कंसल्टिंग एडिटर समी अहमद ने।

 676 total views

Share Now

Leave a Reply