छपी अनछपीः पटना में बुलडोजर पर फिलहाल हाईकोर्ट की रोक, ’बुलडोजर बाबा’ के प्रशंसक परेशान

बिहार लोक संवाद डाॅट नेट, पटना।
पटना के सभी हिन्दी अखबारों में राजीव नगर में अवैध निर्माण पर चल रहे बुलडोजर पर फिलहाल पटना हाईकोर्ट की रोक का आदेश सबसे प्रमुख खबर है।
भास्कर की हेडलाइन है- हाईकोर्ट ने राजीव नगर में रोका बुलडोजर, पूछा- जब ये मकान बन रहे थे तो कहां थे अफसर। प्रभात खबर और जागरण में राजीव नगर की जगह नेपाली नगर छपा है, यानी राजीव नगर के नेपाली नगर वाले हिस्से में यह रोक लगी है।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सोमवार को अपने जनता दरबार में यह कहना पड़ा कि अंचल अधिकारी गलत जमाबंदी कैसे करा रहे, इसकी जांच करवाईये। यह खबर सभी अखबारों में प्रमुखता से छपी है। सबको पता है कि यह काम सीओ के स्तर से हो रहा है और पूरे राज्य से ऐसी शिकायतें मिल रही हैं।
सोमवार को तड़के साढ़े तीन बजे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की तबीयत अचानक बिगड़ने की खबर भी प्रमुखता से छपी है। फिलहाल वे पारस अस्पताल की आईसीयू में हैं और उनकी हालत स्थिर है।
बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चैधरी के कोरोना संक्रमित होने की खबर सभी अखबारों में छपी है।
पूर्व मंत्री नरेन्द्र सिंह के निधन की खबर भी प्रमुखता से छपी है।
सोमवार को जदयू के विक्षुब्ध नेता आरसीपी सिंह के भाजपा में शामिल होने की अफवाह खूब उड़ती रही। वास्तव में वे हैदराबाद में थे और वहीं भाजपा कार्यकारिणी की बैठक हुई थी। इत्तेफाक से भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया और उसी तस्वीर के आधार पर उनके भाजपा में शामिल होने की अफवाह फैल गयी। वैसे, ऐसा लगता है कि एक तरह से आरसीपी भाजपा के दरवाजे लग गये हैं, बस फेरे लगाना बाकी रह गया है।
महाराष्ट्र में शिव सेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे के विश्वास मत जीतने की खबर टाइम्स आॅफ इंडिया की लीड है। रोचक बात यह है कि 11 कांग्रेस विधायक ’देर से पहुंचे’। कुल 20 लोगों ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया। शिंदे के पक्ष में 164 और विपक्ष में 99 वोट पड़े।
महाराष्ट्र के ही अमरावती में उमेश कोल्हे के मर्डर का कथित रूप से नुपूर शर्मा विवाद से कनेक्शन होने को लेकर पकड़े गये 7 अभियुक्तों पर यूएपीए लागू किया गया है। यह खबर भी टाइम्स आॅफ इंडिया में पहले पेज पर है।
फिल्म निर्माता लीना मणिमेकालाई की फिल्म ’काली’ के पोस्टर में सिगरेट पीते हुए दिखाने पर आपत्ति दर्ज किये जाने की खबर टाइम्स आॅफ इंडिया ने पहले पेज पर बाॅक्स में छापी है।
अनछपीः राजीव नगर पटना का वह इलाका है जहां अवैध रूप से निर्माण पर लंबा विवाद चला आ रहा है। वहां के विधायक भाजपा के संजीव चैरसिया हैं। तमाम गैर कानूनी तरीके से वहां निर्माण कार्य होता रहा और अब जाकर वहां बुलडोजर चलाकर अतिक्रमण तोड़ने की कार्रवाई शुरू हुई तो सोमवार को पटना हाईकोर्ट ने उस पर रोक लगा दी। यही नहीं, पुलिस के काम में बाधा डालने वालों पर हुई प्राथमिकी पर भी कोई कार्रवाई नहीं करने का आदेश हुआ है।
राजीव नगर भाजपा समर्थकों का गढ़ है लेकिन भाजपा के ऐसे ही समर्थकों ने उत्तर प्रदेश में इसी बुलडोजर चलाये जाने पर वहां के मुख्यमंत्री की शान में बुलडोजर बाबा का शब्द गढ़ा था। अब उन्हें बुलडोजर चलाये जाने पर आपत्ति हो रही है। कोर्ट भी अफसरों से सवाल कर रहा है, अतिक्रमण वालों से उसका सवाल सामने नहीं आया है। मगर बगल के उत्तर प्रदेश के हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार से ऐसा सवाल नहीं पूछा। ऐसे में यह कहना क्या गलत होगा कि कानून लागू करने में हिन्दू-मुसलमान का भेदभाव किया जाता है।

 356 total views

Share Now

Leave a Reply