छपी-अनछपी: राजगीर में हर घर गंगा जल, जदयू का नारा- 2024 में भाजपामुक्त भारत

बिहार लोक संवाद डॉट नेट, पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की चहेती योजना- हर घर गंगा जल- के तहत राजगीर के घरों में गंगा का पानी मिलने की शुरुआत रविवार को हुई। पटना के सभी हिंदी अखबारों के पहले पेज की पहली खबर यही है। जनता दल यूनाइटेड की राज्य परिषद की बैठक में भाजपा मुक्त भारत का नारा दोहराया गया। इसी बैठक में ललन सिंह को जदयू का राष्ट्रीय अध्यक्ष बरकरार रखने का भी संकेत मिला। इसकी खबर भी प्रमुखता से ली गई है। विश्व कप फुटबॉल में 22वें नंबर की टीम मोरक्को ने दूसरे नंबर की टीम बेल्जियम को 2-0 से हराकर तहलका मचा दिया। यह खबर भी सभी जगह है।
प्रभात खबर की सबसे बड़ी सुर्खी है: राजगीर में हर घर तक पहुंचा गंगाजल, आज से गया व बोधगया में होगी शुरुआत: नीतीश। जागरण ने लिखा है: गंगा पहुंची बुद्ध के द्वार, नीतीश बने ‘भागीरथ’। भास्कर ने लिखा है: बाढ़ के पानी को पेयजल बनाने वाली देश की पहली योजना राजगीर से शुरू, मुख्यमंत्री ने किया शुभारंभ। हिन्दुस्तान की हेड लाइन है: राजगीर के बाद अब पटना में पहुंचेगा हर घर गंगाजल। 4475 करोड़ की लागत से गंगा जल आपूर्ति योजना बनी है। इस योजना के बारे में मुख्यमंत्री ने बताया कि वर्ष 2009 के राजगीर प्रवास के दौरान सभी चीजों को बारीकी से समझा इसी क्रम में यह भी मन में कौंध रहा था कि आखिर जल संकट से गुजरने वाले राजगीर के साथ ही गया बोधगया व नवादा का किस तरह से स्थाई विकास किया जाए। फिर दिसंबर 2019 में गया में हुई कैबिनेट में इसे पारित किया गया।

2024 में भाजपा मुक्त भारत
हिन्दुस्तान ने पहले पेज पर खबर दी है: ललन सिंह फिर बनेंगे जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष। प्रभात खबर की सुर्खी है: जदयू राज्य परिषद की बैठक में 2024 में भाजपा मुक्त भारत बनाने का संकल्प। रविवार को जदयू मुख्यालय में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य परिषद की बैठक में कहा कि मैं ललन सिंह को दोबारा जदयू का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने का प्रस्ताव रखता हूं। आप लोगों को यह मंजूर है? तकरीबन सभी 500 सदस्यों ने हाथ उठाकर समर्थन किया। बैठक में ललन सिंह ने कहा कि हम सभी ने 2024 में भाजपा मुक्त भारत और 2025 में भाजपा मुक्त बिहार बनाने का संकल्प लिया है।

शराब भेजने वाले 2 सबसे बड़े माफिया
भास्कर की दूसरी सबसे बड़ी हेडिंग है: बिहार में डेढ़ साल से 100 करोड़ की शराब भेजने वाले 2 सबसे बड़े माफिया गिरफ्तार। प्रभात खबर में भी दूसरी सबसे बड़ी खबर यही है: शराब के लिए टैंकर व ट्रकों से बिहार में स्पिरिट भेजने वाले दो वांटेड पकड़े गए। हिन्दुस्तान ने लिखा है: शराब के दो बड़े धंघेबाज गुवाहाटी से गिरफ्तार। गिरफ्तार सुनील भारद्वाज और दोरजी फुन्सों करीमी शराब फैक्ट्रियों के मालिक होने के साथ-साथ बड़े कारोबारी भी हैं और इनका सलाना का टर्नओवर करोड़ों में हैं। शराब फैक्ट्रियों की आड़ में दोनों बिहार में शराब की बड़ी खेप भेजते थे। सुनील व दोरजी एक-दो नहीं बल्कि आधा दर्जन शराब फैक्ट्रियों के मालिक हैं। इनकी शराब फैक्ट्रियां अरुणाचल प्रदेश, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और गोवा में हैं। इसके अलावा इनकी आधा दर्जन दूसरी कंपनियां भी हैं। बड़े पैमाने पर जाली कागजात व परमिट तैयार कर देशभर में शराब फैक्ट्रियों के साथ अवैध शराब निर्माताओं को कच्चे स्पिरिट की आपूर्ति करते हैं। सुनील भारद्वाज दुबई में निवेश कर रहा और महंगी गाड़ियों का शौकीन है। वहीं फुन्सों दोरजी ने उच्च शिक्षा वेल्स ( ब्रिटेन) से की है और साइप्रस की महिला से शादी रचाई है। सुनील बुलंदशहर के श्याना से विधानसभा का चुनाव भी लड़ चुका है। अभी वह ग्रेटर नोएडा में रह रहा था।

उज्ज्वला एलपीजी सिलेंडरों का कम हुआ उठाव
प्रभात खबर की खास खबर है: दाम बढ़े, तो एक साल में 69710 उज्ज्वला एलपीजी सिलेंडरों का कम हुआ उठाव। किसने बताया गया है कि 8 माह के अंदर रसोई गैस सिलेंडर के दाम 112 रुपये बढ़े हैं।

मोदी ने कांग्रेस को आतंकवाद के मुद्दे पर घेरा
हिन्दुस्तान के पहले पेज पर एक हेडिंग है: जिन्होंने कर्फ्यू नहीं देखा, उन्हें धमाकों से बचाना है। अखबार लिखता है: गुजरात विधानसभा के लिए चुनाव प्रचार में जुटे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कांग्रेस समेत अन्य दलों को आतंकवाद के मुद्दे पर घेरा। उन्होंने बड़े आतंकी हमलों के बाद विपक्षी दलों पर मौन रहने का आरोप लगाया। मोदी ने कहा कि राज्य के 25 वर्ष तक के युवा, जिन्होंने कभी कर्फ्यू नहीं देखा उनको बम धमाकों से बचाना है। प्रभात खबर ने उनके भाषण की दूसरी सुर्खी लगाई है: आदिवासियों का सम्मान नहीं करती कांग्रेस। प्रभात खबर ने इसी के साथ कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे का बयान दिया है: एक के बाद एक झूठ बोल रहे हैं पीएम। हिन्दुस्तान ने लिखा है: कांग्रेस पर आरोप लगाने वाले खुद लूट रहे: खड़गे।
चीन में कोविड-19 का कारण लगाए गए नए लॉकडाउन के खिलाफ प्रदर्शन की खबर टाइम्स ऑफ इंडिया की लीड है। हिंदी अखबारों ने भी अंदर के पन्नों पर इसे प्रमुखता दी है। इन प्रदर्शनों के दौरान शी जिनपिंग गद्दी छोड़ो के नारे लगने की बात भी कही गई है।

नेपाली कांग्रेस ने 53 सीट जीती
हिन्दुस्तान के देश दुनिया पेज एक अहम खबर है: नेपाल: चुनाव में देउबा की पार्टी 53 सीटों पर जीती। नेपाल के संसदीय चुनाव में प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा की सत्तारूढ़ नेपाली कांग्रेस अब तक सामने आए नतीजों में 53 सीटों पर जीत दर्ज करके सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। नेपाली कांग्रेस ने प्रत्यक्ष मतदान प्रणाली के तहत अकेले 53 सीट जीती हैं, जबकि नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (यूएमएल) ने 42 सीट पर जीत दर्ज की है। इसके अलावा, सीपीएन-माओवादी सेंटर 17 सीट जीतकर तीसरी बड़ी पार्टी बनकर उभरी है जबकि सीपीएन-यूनिफाइड सोशलिस्ट ने 10 सीट जीती हैं। नवगठित राष्ट्रीय स्वतंत्र पार्टी और राष्ट्रीय प्रजातंत्र पार्टी ने सात-सात सीटों पर कब्जा जमाया है। निर्दलीय उम्मीदवारों एवं अन्य छोटे दलों के खाते में 21 सीट गई हैं। 165 सीट में से 21 के नतीजे आने बाकी हैं।

अनछपी: बिहार में शराबबंदी एक ऐसी नीति है जिसके लिए नीतीश कुमार को विरोधियों के अलावा अपने सहयोगियों से भी आलोचना का सामना करना पड़ता है। पत्रकारों का एक बड़ा दल हमेशा नीतीश कुमार को इस बात के लिए निशाने पर लिए रहता है और शराब तस्करी के विभिन्न मामलों को उदाहरण बनाकर पेश करता है। नीतीश कुमार की पूर्व सहयोगी भारतीय जनता पार्टी के कई सदस्य भी शराबबंदी के विरुद्ध बयान देते रहे हैं। ऐसे में असम की राजधानी गुवाहाटी के दो शराब तस्करों का पकड़ा जाना बहुत महत्वपूर्ण है। इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि शराबबंदी को नाकाम बनाने में बहुत सारे तस्कर और उनके राजनैतिक संरक्षक लगे हुए हैं। थानेदारों की मिलीभगत कोई नई बात नहीं है लेकिन एक ऐसा गिरोह भी सक्रिय है जो नीतीश कुमार की इस नीति को हर हाल में नाकाम बनाने में लगा है। नीतीश कुमार को इस बात पर चौकन्ना रहने की जरूरत है कि ऐसे तत्वों को किसी भी हाल में छोड़ा नहीं जाए।

 444 total views

Share Now

Leave a Reply