राजद को सबसे अधिक 75, भाजपा को 74, वाम को 19 सीटें, एमआईएम की 5 पर फतह

बिहार लोक संवाद ब्यूरो
पटना, 11 नवंबर: बिहार विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल 23.1% वोट और 75 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। आरजेडी ने 144 सीटों पर चुनाव लड़ा था।

दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी ने 19.46% वोट लाए हैं और उसकी सीट महज एक कम यानी 74 है। भाजपा ने 110 सीटों पर चुनाव लड़ा था।
गठबंधन के स्तर पर एनडीए को कुल 125 सीटें प्राप्त हो हुईं जबकि महागठबंधन का कांटा 110 पर अटक गया।

एनडीए के दूसरे बड़े पार्टनर जनता दल यूनाइटेड को 43 सीटें मिली हैं। जबकि उसके वोटों का प्रतिशत 15.39 है। जदयू ने 115 सीटों पर चुनाव लड़ा था।

एनडीए में शामिल हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (सेकुलर) और विकासशील इंसान पार्टी को 4-4 सीटें मिली हैं। ‘हम’ ने 7 और वीआईपी ने 11 सीटों पर चुनाव लड़ा था।

जनता दल यूनाइटेड के लिए सबसे बड़ी मुसीबत मानी जाने वाली लोक जनशक्ति पार्टी ने हालांकि सीट तो एक ही जीती लेकिन उसके वोटों का प्रतिशत अन्य छोटे दलों से बेहतर 5.66 रहा। माना जाता है कि लोजपा के ये वोट दरअसल जदयू के लिए थे जो उसके लिए नुकसान का कारण बने।

इधर महाठबंधन में कांग्रेस को 70 सीटों से मैं महज 19 सीटों पर जीत मिलीं।  कम्युनिस्ट पार्टियों ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए 29 सीटों में 16 सीटें जीतीं। कम्युनिस्ट पार्टियों में भाकपा माले ने सबसे अधिक 12 सीटें जीती हैं।

इस चुनाव में एआईएमआईएम ने पांच सीटें जीतकर सबको चौंका दिया। दूसरी ओर बहुजन समाज पार्टी ने एक और एक निर्दलीय उम्मीदवार ने जीत हासिल की है।

 428 total views

Share Now

Leave a Reply