‘ब्लिट्ज़’ की रिपोर्टिंग से मशहूर हुए वरिष्ठ पत्रकार रेयाज़ अज़ीमाबादी का निधन

सैयद जावेद हसन, बिहार लोक संवाद डाॅट नेट

वष्ठि पत्रकार रेयाज़ अजीमाबादी का निधन हो गया। उनकी उम्र 70 वर्ष से ज्यादा थी।

रेयाज़ के बेटे मिस्बाह ने बताया कि रेयाज़ अजीमाबादी और उनकी पत्नी ने पंद्रह दिन पहले कोविड-19 का टीका लिया था। टीका लेने के सात दिन बाद से रेयाज़ की तबीयत खराब रहने लगी। बुखार के आने और जाने का सिलसिला जारी रहा। कल शुक्रवार की रात 9.30 बजे उनकी तबीयत ज्यादा खराब हो गई। कई बार वाश रूम गए। इससे वे हांफने लगे थे। फिर अचानक निढाल हो गए और अंततः उन्होंने दम तोड़ दिया।

रेयाज़ अजीमाबादी की पत्नी एक सरकारी स्कूल में शिक्षिका हैं। 45 प्लस की कैटेगरी में टीका लेने के बाद शुरू में उन्हें भी बुखार आया था। लेकिन वो अब ठीक हैं।

दिवंगत अजीमाबादी अपनी पत्नी और बच्चों के साथ पटना स्थित आलमगंज मुहल्ले में रहते थे।

रेयाज अजीमाबादी मशहूर पत्रकार आर.के. करंजिया के संपादन में प्राकाशित होने वाले साप्ताहिक अखबार ‘ब्लिटज’ से जुड़़े थे। ‘ब्लिटज’ अंग्रेजी, हिन्दी और उर्दू में प्रकाशित होता था। ‘ब्लिटज’ में रहते हुए उन्होंने कई महत्वपूर्ण स्टोरी कवर की। बाद में जब ‘दैनिक जागरण’ का बिहार से प्रकाशन शुरू हुआ तो वो उससे जुड़ गए।

रेयाज अजीमाबादी ने अपनी एक मासिक पत्रिका ‘सेक्यूलर महाज’ का प्रकाशन भी आरंभ किया था। कई वर्ष तक जारी रहने के बाद 2015 में पत्रिका बंद हो गई।

इन दिनों वे उर्दू दैनिक ‘पिंदार’ के संपादकीय विभाग से जुड़े थे।

रेयाज अजीमाबादी के निधन पर जमाअते इस्लामी हिन्द, बिहार के प्रदेश अध्यक्ष मौलाना रिजवान अहमद इस्लाही ने कहा कि श्री अजीमाबादी के चले जाने से बिहार में उर्दू पत्रकारिता की दुनिया ईमानदार और प्रखर पत्रकार से वंचित हो गई।

…………

फोटो में रेयाज अजीमाबादी (बाएं़) खानकाह मुनअमिया के सज्जादानशीं मौलाना शमीमुद्दीन अहमद मुनअमी के साथ।

 445 total views

Share Now

Leave a Reply