बिहार में उर्दू के साथ नाइंसाफ़ी से शिक्षक नाराज़

बिहार लोक संवाद डॉट नेट

बिहार में दूसरी सरकारी भाषा उर्दू और उर्दू शिक्षकों के साथ हो रही नाइंसाफ़ी को लेकर पटना में दो दिवसीय कंवेंशन हुआ। बिहार स्टेट उर्दू टीचर्स एसोसिएशन के तत्वावधान में आयोजित इस कंवेंशन में पूरे प्रदेश से आए शिक्षकों ने भाग लिया। कंवेंशन के दौरान शिक्षकों ने 35 हजार स्कूलों में उर्दू शिक्षक के खाली पदों, हाई स्कूल के पाठ्यक्रम से उर्दू को खारिज करने और 12 हजार स्पेशल उर्दू टीईटी पास उम्मीदवारों के साथ हो रहे अन्याय का मुद्दा उठाया। बिहार लोक संवाद डॉट नेट से बातचीत करते हुए एसोसिएशन के अध्यक्ष कमर मिस्बाही और महासचिव मोहम्मद शफीक ने कहा कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं हो जाती हैं, उनका आंदोलन जारी रहेगा।

 

 424 total views

Share Now

Leave a Reply