बिहार बढ़ रहा है नाईट कर्फ्यू, लाॅकडाउन की तरफ़, सारे जिम, स्विमिंग पूल, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, आउटडोर-इनडोर स्टेडियम बंद

सैयद जावेद हसन, बिहार लोक संवाद डाॅट नेट

बिहार में जिस तरह से कोरोना वायरस का संक्रमण तेज़ी से बढ़ता जा रहा है, उससे प्रदेश में एक बार फिर लाॅकडाउन लगाए जाने की आशंका बढ़ गई है.

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर 18 अप्रैल को होगा बड़ा फैसला

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर संभावित लॉकडाउन पर फैसला एक दिन के लिए टाल दिया है। सीएम ने कहा है 17 अप्रैल को होनेवाली सर्वदलीय बैठक में सरकार की ओर से जानकारी दी जाएगी। कल की बैठक में जो सुझाव आएंगे, उनको लेकर 18 को बैठक की जाएगी।

 कल 11 बजे से होगी सर्वदलीय बैठक, वीडियो कांफ्रेंसिंग से जुड़ेंगे नेता

मुख्यमंत्री ने कहा- ऑक्सीजन कमी को लेकर भी बात हुई। लॉक डाउन और नाईट कर्फ्यू को लेकर भी 18 को ही फैसला। सरकार की ओर से उठाए गए कदमों की सर्वदलीय बैठक में जानकारी दी जाएगी।

बता दें कि शनिवार को राज्यपाल फागू चौहान ने कोरोना महामारी को लेकर सभी दलों की बैठक बुलाई है। बैठक में कोरोना को लेकर सभी पार्टियों से सुझाव मांगे गए हैं। बिहार के आनेवाले भविष्य को लेकर यह बैठक बेहद महत्वपूर्ण मानी जा रही है।

बिहार में पिछले चौबीस घंटे में कोरोना संक्रमण के 6253 नये मामले सामने आए वहीं इस दौरान 13 संक्रमितों की मौत हो गई है।

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने राज्य में कोरोना की अद्यतन स्थिति की जानकारी साझा करने के लिए शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित संवाददाता सम्मेलन में बताया कि पिछले चौबीस घंटे के दौरान कुल एक लाख 404 लोगों की कोरोना जांच की गई है। इससे 6253 नये संक्रमितों की पहचान की गई है। उन्होंने बताया कि राज्य में जांच की दर प्रति दस लाख पर एक लाख 90 हजार 126 है, जो राष्ट्रीय औसत एक लाख 89 हजार 854 से अधिक है।

श्री अमृत ने बताया कि पिछले चौबीस घंटे में 13 संक्रमितों की मौत से राज्य में अबतक संक्रमण से जान गंवा चुके लोगों की संख्या बढ़कर 1688 हो गई है। इस तरह प्रदेश में कोरोना से होने वाली मृत्यु की दर 0.55 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि राज्य में संक्रमण की रफ्तार बढ़ने से संक्रमितों के स्वस्थ होने की दर घटकर 88.57 प्रतिशत हो गई है।

फिलहाल देश भर में तबाही मचा रही कोरोना वायरस को लेकर बिहार सरकार और भी ज्यादा सतर्क हो गई है. बिहार में कोरोना संक्रमण की वजह से स्थिति और भी ज्यादा खतरनाक होती जा रही हैं. इसलिए सरकार ने एक बड़ा फैसला ले लिया है. बिहार के सारे जिम, स्विमिंग पूल, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, आउटडोर स्टेडियम और इनडोर स्टेडियम को बंद कर दिया गया है.

संस्कृति, कला एवं युवा मंत्रालय की ओर से जारी नया आदेश के मुताबिक बिहार के सारे जिम, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, आउटडोर स्टेडियम और इनडोर स्टेडियम को 16 मई तक बंद कर दिया गया है. कोरोना की दूसरे लहर के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए बिहार सरकार बहुत चिंतित है. इसलिए यह बड़ा निर्णय लिया गया है.

मंत्रालय की ओर से जारी इस आदेश में साफ़-साफ़ लिखा गया है कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर और राज्य में तेजी से बढ़ती मरीजों की संख्या को देखते हुए यह डिसीजन लिया गया है. पत्र में ये भी कहा गया है कि यह आदेश तत्काल प्रभाव से 16 मई तक लागू रहेगा. यह पत्र छात्र एवं युवा कल्याण विभाग के निदेशक संजय सिन्हा की ओर से निर्गत किया गया है.

 

 456 total views

Share Now

Leave a Reply