छपी-अनछपीः पटना मेट्रो का अंडरग्राउंड काम शुरू, बीपीएससी का पीटी 20 और 22 सितंबर को

बिहार लोक संवाद डाॅट नेट, पटना। पटना में मेट्रो रेल शुरू होने का इंतजार लंबा है। राहत की बात यह है कि गुरुवार को इसके अंडरग्राउंड काम की शुरुआत हो गयी। बिहार में प्रतियोगी परीक्षाओं के बारे में शक बना रहता है और इससे बीपीएससी जैसी सिविल सेवा की परीक्षा भी बदनाम हुई है। अब बीपीएससी के नये अध्यक्ष अतुल प्रसाद ने कुछ ऐसे फैसले किये हैं, जिनसे पर्चे लीक होने जैसी स्थिति से बचा जा सकता है। ये दो खबरें आज के अखबारों की सबसे बड़ी खबरों में शामिल हैं।
जागरण की लीड हैः पटना मेट्रो रेल का भूमिगत कार्य आरंभ। इस बारे में भास्कर ने जानकारी दी है कि यह परियोजना करीब 1989 करोड़ रुपये की है। पटना मेट्रो के छह भूूमिगत स्टेशन होंगे। इनमें राजेन्द्र नगर, मोइनुल हक, यूनिवर्सिटी, पीएमसीएच, गांधी मैदान और आकाशवाणी शामिल हैं।
हिन्दुस्तान की सबसे बड़ी खबर हैः बीपीएससी का पीटी अब दो दिन 20-22 सितंबर को। प्रभात खबर और भास्कर में भी यही लीड है। यह जानकारी बिहार लोक सेवा आयोग की 67वीं परीक्षा के बारे में है। ऐसा पहली बार हो रहा है। इसके साथ ही यह जानकारी दी गयी है कि रिजल्ट अब पर्सेंटाइल के हिसाब से निकाला जाएगा। पीटी व मेंस की मूल्यांकित काॅपियों को वेबसाइट पर डाला जाएगा। पीटी के बाद आॅप्शनल पेपर बदला जा सकेगा। सवाल के लिफाफों का सील परीक्षार्थियों के सामने खोला जाएगा और ओएमआर शीट भी उनके सामने सील की जाएगी। इसके लिए परीक्षार्थियों को एक घंटे पहले परीक्षा हाॅल में बैठ जाना होगा और परीक्षा खत्म होने के 15 मिनट बाद तक बैठना होगा।
हिन्दुस्तान में यह खबर प्रमुखता से छपी है कि रोहिंग्या हर हाल में निकाले जाएंगे। यह बयान केन्द्र के मंत्री अनुराग ठाकुर ने दिया है। रोचक बात यह है कि इस बहस की शुरुआत एक और केन्द्रीय मंत्री हरदीप पुरी के ट्वीट से शुरू हुई थी जिसमें उन्होंने रोहिंग्या शरणार्थियों को फ्लैट देने की बात कही थी। भारत सरकार के दो मंत्री एक ही तरह के लोगों को अवैध प्रवासी और शरणार्थी कह रहे हैं।
सृजन घोटाले में पूूर्व आईएएस केपी रमैया समेत नौ के खिलाफ वारंट जारी होने की खबर भी प्रमुखता से छपी है। यह वारंट सीबीआई की विशेष अदालत ने जारी किया है।
दो बाहुबलियों- सुनील पांडेय व राजन तिवारी की गिरफ्तारी की खबर भी प्रमुखता से छपी है।
दुष्कर्म मामले में होईकोर्ट के आदेश के खिलाफ शाहनवाज हुसैन के सुप्रीम कोर्ट पहुंचने की खबर सभी जगह प्रमुखता से छपी है।
सरकार ने देश विरोधी दुष्प्रचार के आरोप में आठ यू ट्यूब चैनलों पर पाबंदी लगा दी है। यह खबर भी प्रमुखता से छपी है।
गर्भाशय घोटाले पर सरकार ने अब तक क्या कार्रवाई की है। इसके बारे में हाईकोर्ट ने बिहार के मुख्य सचिव से पूरा ब्योरा देने को कहा है। यह खबर सभी जगह अच्छे से छपी है।
अनछपीः आज सभी अखबारों में पटना में लूटपाट के दौरान एक फौजी की हत्या की खबर छपी है। पहले इस खबर को पढ़िए जो भास्कर से ली गयी हैः कंकड़बाग मेन रोड स्थित चंदन आॅटोमोबाइल के पास बाइक सवार अपराधियों ने लूटपाट के दौरान सेना के जवान बबलू कुमार की सिर में गोली मारकर हत्या कर दी। वे अरुणाचाल प्रदेश के चेंगा में सिग्नलमैन के पद पर पोस्टेड थे। 34 साल के बबलू अपने चचेरे भाई विजय यादव के साथ बाइक से कुम्हरार स्थित आवास से दिल्ली-गुवाहाटी राजधानी एक्सप्रेस पकड़ने रात करीब ढाई बजे पाटलिपुत्र स्टेशन के लिए निकले थे। बाइक विजय चला रहे थे और ट्राॅली बैग लेकर बबलू पीछे बैठे थे। चंदन आॅटोमोबाइल के पास एक अपाचे पर सवार दो अपराधी आए। बबलू से पटना जंक्शन का रास्ता पूछा। उसके बाद लूटपाट करने लगे। विरोध करने पर एक अपराधी ने उनके सिर के दाहिने ओर गोली मार मार दी। गोली आरपार हो गई। उसके बाद लुटेरे उनका बैग लेकर फरार हो गए।
पिछले सत्रह साल से नीतीश कुमार के शासन को सुशासन बताया जा रहा है। ऐसी घटनाएं पिछले कई महीनों से आये दिन होे रही हैं। सरकार यह कहकर इस जघन्य अपराध को हल्का नहीं कर सकती कि यह संगठित नहीं है।

 202 total views

Share Now

Leave a Reply