हाजीपुर के प्रोफेसर साकेत को मिला भटनागर अवाॅर्ड

बिहार लोक संवाद डाॅट नेट
पटना।
हाजीपुर निवासी और प्रतिष्ठित चेन्नई स्थित इंस्टीट्यूट आॅफ मैथेमेटिकल सायंसेंज में थ्योेरेटिकल कम्पयूटर सायंस के प्रोफेसर डाॅ. साकेत सौरभ को वैज्ञानिक शोध के लिए दिया जाने शांतिस्वरूप भटनागर अवाॅर्ड से नवाजा गया है। भटनागर अवाॅर्ड से प्रसिद्ध यह पुरस्कार हर साल विज्ञान के सात क्षेत्रों में दिया जाता है। 41 वर्षीय डा. सौरभ को यह पुरस्कार गणितीय विज्ञान के लिए दिया गया है।
इस पुरस्कार में पांच लाख रुपये की राशि भी दी जाती है। इस साल यह पुरस्कार पाने वाले अन्य हैं- डा. अमित सिंह, डा. अरुण कुमार शुक्ला, डा. कनिष्का बिस्वास, डा. टी गोविन्दराजू, डा. बिनॅय कुमार सैकिया, डा. देबदीप मुखोपाध्याय, डा. अनीश घोष, डा. जीमोन पन्नियम्मलकल, डा. रोहित श्रीवास्तव और डा. कनक साहा। इंस्टीट्यूट आॅफ मैथेमेटिकल सायंसेज में सैद्धातिक भौतिकी के प्रोफेसर सैयद रागिब हसद ने प्रोफसर साकेत को इस अवाॅर्ड मिलने पर खुशी का इजहार करते हुए उन्हें हार्दिक बधाई दी और कहा कि यह बिहार के लिए बड़े ही फख्र की बात है।
केन्द्रीय विद्यालय सोनपुर, सारण से दसवीं पास करने वाले साकेत सौरभ ने कोडाइकनाल के गांधी विद्याश्रम से बारहवीं पास करने के बाद चेन्नई मैथेमेटिकल इंस्टीट्यूट से ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन किया है।
प्रोफेसर साकेत इस समय जिस इंस्टीट्यूट आॅफ मैथेमेटिकल सायंसेंज में पढ़ा रहे हैं वहीं से उन्होंने 2008 में कम्प्यूटर सायंस में पीएच.डी. की डिग्री ली। उन्होंने दो साल तक नाॅर्वे की यूनिवर्सिटी आॅफ बर्गन के डिपार्टमेन्ट आॅफ इन्फाॅर्मेटिक्स में पढ़ाया है। उनके शोध का मुख्य विषय ग्राफ अलगोरिद्म और पारामीटराइज्ड अलगोरिद्म व कॅम्प्लेक्सिीटी है। उन्होंने दो किताबंें भी लिखी हैं।

 

 612 total views

Share Now

Leave a Reply