छपी-अनछपीः प्रधानमंत्री मोदी आज पटना में, शाम 4 बजे से 10 रास्ते बंद, जेईई मेन में 14 टाॅपर

बिहार लोक संवाद डाॅट नेट, पटना। बिहार विधानसभा शताब्दी समारोह के समापन समारोह के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज शाम करीब सवा पांच बजे पटना पहुंचेंगे और करीब पौने दो घंटे रहकर वापस हो जाएंगे। पहले वे विधानसभा शताब्दी स्तंभ का लोकार्पण करेंगे और इसके बाद समापन समारोह को संबोधित करेंगे। इस कारण शाम चार बजे से समारोह समापन तक आर ब्लाॅक आरओबी और हार्डिंग रोड समेत दस सड़कें बंद रहेंगी।
प्रधानमंत्री के आने की खबर प्रभात खबर और जागरण की लीड है। प्रभात खबर की हेडलाइन हैः पीएम आज पटना में, विधानसभा शताब्दी स्तंभ का करेंगे उद्घाटन। जागरण ने लिखा हैः प्रधानमंत्री आज के विधायी इतिहास को सौंपेंगे चार स्मृतियां।
हिन्दुस्तान की लीड आज हैरतअंगेज तौर पर न प्रधानमंत्री की खबर है और न जेईई की। इसमें संयुक्त राष्ट्र से आयी खबर लीड बनी है। शीर्षक हैः आबादी में देश शीर्ष की ओर। इसमें बताया गया है कि 2023 में चीन को पछाड़ देगा भारत। इसके साथ एक बेहद विवादास्पद बयान को जगह दी गयी है जिसमें केन्द्री मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है, ’’जनसंख्या रोकने को 10-10 बच्चे पैदा करने वाली विकृत मानसिकता पर अंकुश लगे।’’ इसके साथ योगी आदित्यनाथ और असदउद्दीन ओवैसी का बयान भी शामिल है। इसी अखबार ने कल एक लेख छापा था जिसमें यह बताया गया था कि आबादी को मजबूरी न बनाकर शक्ति बनाना चाहिए मगर आज उसकी बोली बदली हुई है। पेज नंबर दो पर उप मुख्यमंत्री रेणु देवी का बयान हैः मानवीय मूल्यों में गिरावट से बढ़ रही जनसंख्या। अब उनसे कोई कैसे पूछे कि किस मानवीय मूल्य में गिरावट से जनसंख्या बढ़ रही है।
भास्कर ने जेईई के पहले रिजल्ट को लीड की जगह दी है। इसकी सुर्खी हैः देश के 14 टाॅपर्स को 100, बिहार के आदित्य अजेय को 99.99 परसेंटाइल। देश के सबसे बड़े इंजीनियरिंग काॅलेजों में दाखिले के लिए इस इम्तिहान के रिजल्ट की खबरें बाकी अखबारों में भी इश्तिहार के साथ छपी है।
हिन्दुस्तान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार की खबर को काफी अहमयित दी है जिसमें उन्होंने मेडिकल काॅलेजों में सुविधाएं न मिलने की जांच कराने की बात कही है।
बीपीएससी प्रश्नपत्र लीक मामले में डीएसपी रंजीत रजक को हिरासत में लेकर पूछताछ करने की खबर भी प्रमुखता से छपी है।
सीमांचल में नैरोबी मक्खी के आक्रमण की खबर को हिन्दुस्तान ने पहले पेज का बाॅटम बनाया है। इसमें बताया गया है कि पूर्णिया, अररिया, किशनगंज और कटिहार में इस मक्खी से ज्यादा परेशानी है जिसके काटने से घाव हो रहा और आंखों पर बैठने से आंख की रौशनी पर असर पड़ रहा है।
अनछपीः हिन्दुस्तान अखबार के संपादकीय पेज पर पूर्व आईपीएस अधिकारी विभूति नारायण का आलेख जरूर पढ़ना चाहिए। इसका शीर्षक हैः उठी लपटें तो हम सब तक पहुंचेंगी। श्री राय ने लिखा है, ’’जिनता राजनीतिक दलों ने देश के दो बड़े समुदायों के बीच की खाई को चैड़ा करने का काम किया है, मीडिया के गैर-जिम्मेदार तबके का योगदान उनसे कुछ कम नहीं है। पूरा लेख पठनीय है।
वैसे, समय आ गया है कि इस खाई को पाटने के लिए गंभीर प्रयास किये जाएं और मीडिया को अवाम से लेकर अदालत तक बेनकाब किया जाए। आज मीडिया वास्तव में नफरत का बहुत बड़ा जरिया बन चुका है।

 561 total views

Share Now

Leave a Reply