छपी-अनछपी: राहुल के घर दिल्ली पुलिस, कर्ज चुकाने के पैसे के लिए अगवा कर छात्र का मर्डर

बिहार लोक संवाद डॉट नेट, पटना। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के घर दिल्ली पुलिस के पहुंचने की खबर काफी चर्चित है। पटना में एक शिक्षक द्वारा छात्र की अगवा कर हत्या करने की खबर भी पहले पेज पर है। बिहार में आंधी पानी से बिजली सप्लाई पर असर पड़ा है, इस खबर को अहमियत दी गई है। सीमांचल में एआईएमआईएम सभी लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ेगी। असदुद्दीन ओवैसी के इस  बयान को भी जगह मिली है। खालिस्तान की मांग करने वाले अमृतपाल सिंह को पुलिस अब तक गिरफ्तार नहीं कर पाई है। इससे संबंधित खबर भी प्रमुखता से छपी है।

राहुल गांधी के घर दिल्ली पुलिस पहुंचने की खबर जागरण और हिन्दुस्तान में पहले पेज पर है। दिल्ली पुलिस कांग्रेस नेता से उन महिलाओं के बारे में जानना चाहती थी जिनके यौन उत्पीड़न का जिक्र उन्होंने श्रीनगर में भारत जोड़ो यात्रा के समापन पर किया था। राहुल ने दिल्ली पुलिस की नोटिस का शुरुआती जवाब ई-मेल से भेजकर लिखा है कि बयान के 45 दिन बाद पुलिस का जवाब मांगना अभूतपूर्व है। दिल्ली पुलिस के विशेष सीपी सागरप्रीत हुड्डा सुबह करीब सवा दस बजे राहुल के सरकारी आवास 12 तुगलक लेन पहुंचे। पुलिस उनके घर दूसरी नोटिस लेकर पहुंची थी। इससे पहले 16 जनवरी को भी नोटिस दी गई थी। सूत्रों के अनुसार, पुलिस को राहुल गांधी से मिलने के लिए करीब दो घंटे इंतजार करना पड़ा। इसके बाद पुलिस की राहुल गांधी से 20 मिनट बातचीत हुई।

अगवा और मर्डर

जागरण की मेन हेडलाइन है: शिक्षक ने तुषार को अगवा कर मार डाला। भास्कर की सबसे बड़ी खबर भी यही है: 12 लाख लौटाने के लिए बच्चे के टीचर ने किया अपहरण, हत्या के बाद रचा फिरौती का खेल। फिरौती के लिए अपहृत बिहटा के कन्हौली निवासी शिक्षक राजकिशोर के 12 वर्षीय इकलौते पुत्र तुषार कुमार को उसके शिक्षक ने ही अगवा किया था और अपहरण के डेढ़ घंटे बाद ही उसकी हत्या कर दी थी। फिर उसी के मोबाइल से उसके पिता को वॉइस मैसेज भेज कर 40 लाख की फिरौती मांग रहा था। एसआईटी ने रविवार को मुख्य आरोपी शिक्षक मुकेश कुमार को पटना के एसके पूरी, वेस्ट बोरिंग कैनाल रोड से गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से छात्र का मोबाइल भी मिल गया है। वह स्कूल संचालक और बिहटा के किशनपुर का रहने वाला है। स्कूल कर्ज के कारण बंद हो गया था वह करीब 20 लाख का कर्जदार हो गया था और क़र्ज़ चुकाने के लिए ही उसने तुषार का अपहरण किया था।

बिजली सप्लाई पर असर

हिन्दुस्तान की पहली खबर है: आंधी-पानी से बिजली आपूर्ति 50% बाधित। बिहार में शुक्रवार की देर रात आई आंधी और तेज बारिश के कारण बिजली की आपूर्ति लगभग 50 फीसदी बाधित रही। रात 10 बजे तक राज्य में लगभग पांच हजार मेगावाट बिजली की आपूर्ति हो रही थी। जो तेज आंधी-पानी के बाद घटकर तीन हजार मेगावाट से भी कम हो गयी थी। ग्रामीण इलाकों में कई फीडर बंद हो गए। कई ग्रिड से भी आपूर्ति बाधित हो गयी। बिजली कंपनी मुख्यालय के अनुसार पांच दर्जन से अधिक प्रखंडों में बिजली आपूर्ति चरमरा गयी। ग्रामीण इलाकों में तार-पोल भी काफी संख्या में गिर गए। राजधानी पटना के कई इलाकों में भी घंटों बिजली आपूर्ति बाधित रही। उत्तर बिहार के सीवान सहित कई जिलों में छह से आठ घंटे बाद बिजली आपूर्ति में सुधार लाया जा सका।

ओवैसी की पार्टी और सीमांचल

सीमांचल अधिकार यात्रा पर तीन दिवसीय दौरे पर आए एआईएमआईएम चीफ सह सांसद असदुद्दीन ओवैसी तय कार्यक्रम के तहत तीसरे दिन रविवार को किशनगंज जिले के कोचाधामन, बहादुरगंज, ठाकुरगंज प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न कार्यक्रम में शामिल होते हुए ठाकुरगंज प्रखंड क्षेत्र में महानंदा नदी की भेरभेरी घाट पर पहुंचे। पत्रकारों के सवाल पर एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि वर्ष 2025 के विधानसभा चुनाव में एआईएमआईएम 50 सीट पर चुनाव लड़ेगी। वहीं 2024 के लोस चुनाव में किशनगंज के अलावा सीमांचल में सभी लोकसभा सीट सहित अन्य जगहों से एआईएमआईएम चुनाव लड़ेगा।

अमृतपाल का कनेक्शन

जागरण की दूसरी सबसे बड़ी खबर है: अमृतपाल पर घेरा और हुआ और सख्त। हिन्दुस्तान ने लिखा है दावा अमृतपाल का पाकिस्तान कनेक्शन। खालिस्तान समर्थक और वारिस पंजाब दे संगठन के प्रमुख अमृतपाल सिंह का पाकिस्तान कनेक्शन सामने आया है। पंजाब पुलिस ने खुलासा किया है कि वह दुबई में आईएसआई के संपर्क में आया। उसने पाक खुफिया एजेंसी की मदद से आनंदपुर खालसा फोर्स (एकेएफ) नाम से हथियारबंद गिरोह तैयार किया। जालंधर रेंज के डीआईजी स्वपन शर्मा ने रविवार को अमृतपाल के बारे में चौंकाने वाले खुलासे किए। उन्होंने बताया कि अमृतपाल को पाकिस्तान से आर्थिक मदद का भरोसा मिला था। अमृतपाल सिंह के नेतृत्व वाले संगठन से जुड़े चार सदस्यों को पंजाब से गिरफ्तार करने के बाद रविवार को असम के डिब्रूगढ़ लाया गया, जबकि अमृतपाल और उसके अन्य सहयोगियों को पकड़ने के लिए प्रयास जारी हैं। पुलिस आयुक्त कुलदीप सिंह चहल ने कहा कि अमृतपाल अब भगोड़ा है।

कुछ और सुर्खियां

  • पीएफआई मामले में एनआईए ने 13 वें अभियुक्त मोहम्मद इरशाद को पूर्वी चंपारण के मेहसी से गिरफ्तार किया
  • बिहारशरीफ में महिला को कई टुकड़ों में काटकर खन्धे में फेंका
  • पूर्व आईएएस अधिकारी आईसी कुमार का निधन
  • पटना जंक्शन पर अश्लील फिल्म के प्रसारण से यात्री हुए परेशान
  • इमरान खान पर आतंक फैलाने और हंगामे का मुकदमा
  • मैंने लंदन में ऐसा कुछ नहीं कहा जो देश के खिलाफ हो: राहुल गांधी
  • सुशील मोदी बोले- बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी को बर्खास्त किया जाए
  • राजद ने कहा- आरोपित 24 केंद्रीय मंत्रियों से पहले इस्तीफा मांगें मोदी
  • भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की बैठक में दावा: मुस्लिम समाज के हित में सबसे ज्यादा काम नरेंद्र मोदी ने किया
  • हिंदू जहां भी जाते हैं जाति की विकृति लेकर: प्रोफेसर चंद्रशेखर

अनछपी: बिहटा से फिरौती के लिए अगवा करने के बाद छात्र की हत्या का मामला बेहद गंभीर और संवेदनशील है। यह मामला इसलिए बेहद संवेदनशील है कि यह किसी आदि अपराधी का काम ना होकर शिक्षक जैसे भरोसेमंद व्यक्ति द्वारा किया गया है। किसी को अपराधी से बचाने के उपाय तो किए जा सकते हैं लेकिन शिक्षक पर जब भरोसा हो तो उससे बचने के लिए कोई क्या कर सकता है? अमिताभ जबकि बच्चे की उम्र महज 12-13 साल हो। यह बात जरूर गंभीर है कि बच्चे के पिता ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने समय रहते इस ओर ध्यान नहीं दिया। यह घटना जिस प्रकार हुई है उससे तो यही लगता है कि पुलिस ने अगर समय रहते छापेमारी वगैरा शुरू करती तो बच्चे को बचाया जा सकता था। बच्चे के पिता का कहना है कि उनका पुलिस के पास जाना ही बच्चे के लिए खतरा बन गया। यह बात पुलिस पर भरोसे में कमी को दर्शाता है। पुलिस जरूर यह कह रही है कि डेढ़ घंटे के अंदर ही बच्चे की हत्या कर दी गई लेकिन जब अपहरण फिरौती के लिए किया गया था तो यह मानना थोड़ा मुश्किल लगता है कि इतनी जल्दी उसकी हत्या हो गई होगी। बच्चे की हत्या के बाद पुलिस का काम सिर्फ यह नहीं है कि दोषी को सजा दिलाई जाए बल्कि इसकी भी पड़ताल की जाए कि आखिर पुलिस ऐसे मामलों में असंवेदनशील और लेट लतीफ कैसे हो सकती है। पुलिस विभाग अगर अपने कर्मचारियों और अधिकारियों पर सख्ती करें तो भविष्यव में ऐसी घटना होने से रोका जा सकता है।

 925 total views

Share Now

Leave a Reply