कोरोना संक्रमण की बढ़ती संख्या बिगाड़ रही है मानसिक संतुलन, स्टेशन मास्टर ने कोरोना पाॅजिटिव पत्नी की हत्या कर की आत्महत्या

बिहार लोक संवाद डाॅट नेट पटना

बिहार में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 89660 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, पिछले चैबीस घंटे के दौरान प्रदेश में 11801 नये संक्रमितों का इजाफा हुआ है। राजधानी पटना में 16720 लोग संक्रमित पाए गए हैं। कोरोना मरीजों की बढ़ती हुई संख्या, मेडिकल आॅक्सीजन की कमी और अस्पतालों में फैली कुव्यवस्था से लोगों में हताशा और निराशा फैलने लगी है। शायद इसी का नतीजा है कि पटना के पत्रकार नगर थाना क्षेत्र में सोमवार की सुबह एक स्टेशन मास्टर ने अपनी पत्नी की गला रेतकर हत्या करने के बाद आत्महत्या कर ली।

समाचार एजेंसी वार्ता और एएनआई के अनुसार, न्यू चित्रगुप्त नगर निवासी 50 वर्षीय स्टेशन मास्टर अतुल लाल पटना जंक्शन पर कार्यरत थे। उनकी 42 वर्षीय पत्नी तुलिका कुमारी राजधानी स्थित एक प्राइवेट संस्था में कार्यरत थीं।

अतुल लाल को जब पता चला कि उनकी पत्नी कोरोना पाॅजिटिव हैं तो उन्होंने तुलिका की गला रेतकर हत्या कर दी और अपार्टमेंट की छत से कूदकर आत्महत्या कर ली।

नीतीश ने बेड की संख्या बढ़ाने का दिया निर्देश


इस बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आईजीएमएस समेत सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए बेड की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया। सोमवार को पटना में वीडियो कन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोविड-19 से संबंधित उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक में नीतीश कुमार ने अधिकारियों को ऑाॅक्सीजन और दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए हर जरूरी कदम उठाने का भी निर्देश दिया।

बैठके दौरान नीतीश कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण के मामले हर रोज तेजी से बढ़ रहे हैं। विशेषज्ञों के अनुसार अभी और बढ़ने की संभावना है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर हरेक पहलू पर गंभीरतापूर्वक विचार कर परिस्थिति के अनुसार हर जरुरी कदम उठाया जाए।

 508 total views

Share Now

Leave a Reply