छपी-अनछपी: बिहार ने मांगा 20 हजार करोड का पैकेज, आईजी के घर से पिस्तौल चोरी

बिहार लोक संवाद डॉट नेट, पटना। भारतीय जनता पार्टी के साझीदार रहते हुए बिहार सरकार की ओर से विशेष पैकेज और विशेष दर्जे के बारे में बात नहीं हो पा रही थी। भाजपा के पूर्व साझीदार जदयू के नेता अब इस बारे में खुलकर बोल पा रहे हैं। 2023-24 के केंद्रीय बजट में बिहार के वित्त मंत्री विजय कुमार चौधरी ने राज्य के लिए 20 हज़ार करोड़ रुपये के पैकेज की मांग की है। यह खबर सभी अखबारों में प्रमुखता से ली गई है। बिहार के एक आईजी के पटना स्थित घर से पिस्तौल और गोलियों की चोरी की खबर भी सभी जगह है। उधर राजद प्रमुख लालू प्रसाद अपने किडनी ट्रांसप्लांट के लिए सिंगापुर रवाना हो चुके हैं। यह जानकारी भी सुर्खियों में है।
जागरण की पहली खबर है: विशेष दर्जा मिलने तक दें अतिरिक्त सहायता। हिन्दुस्तान की सबसे बड़ी सुर्खी है: बिहार को 20 हज़ार करोड़ का विशेष पैकेज दे केंद्र। भास्कर ने लिखा है: केंद्रीय योजनाओं पर बिहार को 30 हज़ार करोड़ रु. खर्च करने पड़ते हैं, केंद्र योजना घटाए या 90% राशि दे। प्रभात खबर की सुर्खी है: केन्द्रांश-राज्यांश का शेयरिंग पैटर्न 90-10 का हो: विजय चौधरी।

नगर निकाय चुनाव दिसंबर में 

प्रभात खबर की पहली खबर है: दिसंबर के तीसरे और चौथे सप्ताह में हो सकता है नगर निकाय चुनाव। अखबार के अनुसार राज्य में स्थगित नगर निकाय चुनाव की तैयारी लगभग पूरी कर ली गई है। दिसंबर में संभावित नगर पालिका चुनाव में उन 24 नगर पालिकाओं के सभी वार्डों का चुनाव होने की संभावना है जिनकी तैयारी पूरी नहीं हुई थी। चुनाव अत्यंत पिछड़ा वर्ग के आरक्षण पर पटना हाई कोर्ट के आदेश के बाद स्थगित किया गया था। अब कहां जा रहा है कि नगरपालिका चुनाव में अत्यंत पिछड़े वर्गों के आरक्षण को लेकर तीन स्तरीय जांच को अमलीजामा देने की कवायद पूरी हो गई है।

पांच थानेदार सस्पेंड

भास्कर की लीड है: हाईकोर्ट का आदेश नहीं माना, रोहतास में पांच थानेदार सस्पेंड। यही खबर जागरण में दूसरी सबसे बड़ी सुर्खी है: रोहतास में रहे 5 एसआई किए गए निलंबित, भोजपुर के 14 सीओ तलब। अख़बार लिखता है जल स्रोतों व सरकारी जमीन पर अतिक्रमण के मामले में पटना हाईकोर्ट ने सख्ती दिखाई है। भोजपुर जिले में वर्ष 2016-17 में चिन्हित सैकड़ों जल स्रोतों पर अब तक कब्जे की सूचना पर जिले के सभी 14 सीटों को 1 दिसंबर को कोर्ट में हाजिर होकर अब तक की कार्रवाइयों से अवगत कराने का आदेश दिया है। हाईकोर्ट के आदेश पर निलंबित होने वाले पांचों थानेदार पर ग्रह करके रीवा मौजे में बिहार सरकार की जमीन से अतिक्रमण नहीं हटाने का आरोप है।

आईजी के घर से पिस्तौल चोरी

होमगार्ड और फायर ब्रिगेड सर्विस में आईजी विकास वैभव के घर से उनकी पिस्तौल और 25 गोलियों के चोरी जाने की खबर हिन्दुस्तान और टाइम्स ऑफ इंडिया में पहले पेज पर छपी है। श्री वैभव के बेडरूम से उनकी सरकारी गलौक पिस्टल और 9 एमएम की 25 गोलियों की चोरी की घटना 24 नवंबर को उनके अनीसाबाद पुलिस कॉलोनी स्थित निजी आवास ए-13 में हुई। पुलिस ने इस मामले में होमगार्ड जवान के बेटे सूरज कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है। सूरज ने अपने साथी व उड़ानटोला के रहने वाले सुमित को पिस्टल बेचने की बात स्वीकारी है।

लालू गए सिंगापुर

लालू प्रसाद के बारे में भास्कर की खबर है: राबड़ी व मीसा संग लालू गए सिंगापुर, अगले माह किडनी ट्रांसप्लांट संभव। प्रभात खबर की सुर्खी है किडनी ट्रांसप्लांट के लिए भावुक माहौल के बीच लालू गए सिंगापुर।

नेपाल में लामिछाने ‘नायक’

हिन्दुस्तान में पहले पेज पर खबर है: नेपाल में ‘नायक’ बने नई पार्टी बनाने वाले रवि लामिछाने। लामिछाने ने अपनी धारदार पत्रकारिता के लिए पहचाने जाते थे और इसी साल गैलेक्सी शो टीवी के प्रबंध निदेशक का पद छोड़कर चुनाव मैदान में उतरे थे। उन्होंने 5 महीने पहले राष्ट्रीय स्वतंत्र पार्टी बनाई और चितवन सीट से सत्ताधारी नेपाली कांग्रेस के उम्मीदवार और पूर्व केंद्रीय मंत्री उमेश श्रेष्ठ को हरा दिया। उधर नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा की पार्टी नेपाली कांग्रेस अपने गठबंधन के साथ संसदीय चुनाव में स्पष्ट बहुमत की ओर बढ़ती बताई जा रही है।

तनखैया घोषित

तख्त साहिब प्रबंधक कमेटी के महासचिव के तनखैया घोषित होने की खबर भी सभी अखबारों में है। तख्त साहिब में शुक्रवार की देर शाम पंच प्यारों की बैठक में कमेटी के महासचिव, सचिव समेत पूर्व जत्थेदार के खिलाफ निर्णय लिए गए। पंच प्यारों ने हुकुमनामा जारी कर पूर्व जत्थेदार ज्ञानी रंजीत सिंह को पंक छेक की सजा सुनाते हुए किसी भी धार्मिक, सामाजिक सभा में शामिल होने पर रोक लगा दी। उनके किसी से मेल-जोल बढ़ाने पर भी रोक लगायी गयी है।

लचित बोरफुकन की 400वीं जयंती

प्रभात खबर में पहले पेज पर एक सुर्खी है: देश आज गुलामी की मानसिकता छोड़ अपनी विरासत पर कर रहा गर्व: पीएम। प्रधानमंत्री ने दिल्ली में यह बात अहोम साम्राज्य के जनरल लचित बोरफुकन की 400वीं जयंती पर वर्ष भर आयोजित कार्यक्रमों के समापन समारोह में कही। इस खबर की सुर्खी हिन्दुस्तान में है: साजिशन रचा गया इतिहास सुधार रहे: मोदी। श्री मोदी ने कहा कि भारत का इतिहास वीरता का रहा है, लेकिन दुर्भाग्य से आजादी के बाद भी वह इतिहास पढ़ाया जाता रहा जो गुलामी के कालखंड में साजिशन रचा गया था। आजादी के बाद जरूरत थी कि भारत को गुलाम बनाने वाले विदेशियों के एजेंडे को बदला जाता, लेकिन ऐसा नहीं किया गया। इतिहास को लेकर पहले जो गलतियां हुईं उन्हें अब देश सुधार रहा है।

“गुजरात में स्थाई शांति”

उधर गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए अपनी एक रैली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आरोप लगाया कि राज्य में पहले असामाजिक तत्व हिंसा में लिप्त होते थे और कांग्रेस उनका समर्थन करती थी। उन्होंने दावा किया कि भाजपा की सरकार ने राज्य में स्थाई शांति कायम की। हिन्दुस्तान में सुर्खी है: अमित शाह बोले, भाजपा की सरकार ने गुजरात में स्थाई शांति कायम की। गुरुवार को इस बारे में कई मीडिया प्लेटफॉर्म पर अमित शाह का यह बयान आया था कि 2002 में उन्हें सबक सिखाया गया उसके बाद से वहां शान्ति है।

पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे?
एक ही खबर कैसे अलग अलग ढंग से पेश की जा सकती है, इसकी मिसाल आज की दो सुर्खियों में देख सकते हैं। जागरण की हेडलाइन है: मध्यप्रदेश में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे। हिन्दुस्तान ने लिखा है: ‘भाजपा ने बदनाम करने को वीडियो में छेड़छाड़ की’। जागरण में सिर्फ आरोप की खबर दी है जबकि हिन्दुस्तान ने यह बताया है कि कांग्रेस का कहना है कि वीडियो में छेड़छाड़ की गई है।

अनछपी: दुनिया में शांति भंग करने के लिए सिर्फ गोला बारूद ही नहीं बल्कि फेक न्यूज़ भी काफी खतरनाक रोल निभाता है। फेक न्यूज़ का एक अहम हिस्सा है किसी पार्टी के नेता के बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश करना। इसके लिए बयान के अगले पिछले हिस्से को काटकर वीडियो जारी किया जाता है या गलत दावों के साथ वीडियो प्रसारित कर दिया जाता है। इस मामले में भारतीय जनता पार्टी का आईटी सेल बहुत ही बदनाम रहा है। इस समय जब राहुल गांधी अपनी भारत जोड़ो यात्रा पर काफी संख्या में लोगों को आकर्षित कर रहे हैं तो भाजपा ने यह दावा किया है कि उनकी ऐसे ही एक यात्रा में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए हैं। कांग्रेस ने अब कानूनी कार्रवाई की बात कही है लेकिन यहां यह याद दिलाना होगा कि इससे पहले राहुल गांधी के एक और बयान को इसी तरह काट छांट कर पेश किया गया था। उस बयान से ऐसा लगता है कि राहुल गांधी कह रहे हैं कि एक ऐसी मशीन निकली है जिसमें आलू डालने पर सोना निकलता है लेकिन वास्तविकता यह है कि उसके पहले कि यह लाइन काट दी गई है जिसमें उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐसा बताते हैं। कांग्रेस अगर कानूनी कार्रवाई करती है तो यह अच्छी बात है लेकिन इसका नतीजा क्या होगा यह भी देखना पड़ेगा।

 465 total views

Share Now

Leave a Reply