लोकतंत्र को मजबूत बनाने में सोशल मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण

लोकतंत्र को मजबूत बनाने और आम आदमी की आवाज को बुलंद करने में सोशल मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका है। पटना में 22 नवंबर को जमाअते इस्लामी हिन्द बिहार के प्रदेश अध्यक्ष मौलाना रिजवान अहमद इस्लाही ने सिटीजन जर्नलिस्ट के लिए आयोजित एक वर्कशाॅप को संबोधित करते हुए कहा कि सच और इंसाफ का पक्ष लेना और बेबसों-मज़लूमों की आवाज़ उठाना ही सच्ची पत्रकारिता है।

मौलाना रिज़वान अहमद ने कहा कि चैदह सौ साल पहले इस्लाम ने ही पत्रकारिता का बुनियादी उसूल बताते हुए स्पष्ट कर दिया था कि इस पेशे में झूठ, प्रपंच और प्रोपगंडे का कोई स्थान नहीं है। उन्होंने अफ़सोस ज़ाहिर करते हुए कहा कि आज मुसलमान ही पत्रकारिता के पेशे में काफी पीछे हैं।

वर्कशाॅप के दौरान समी अहमद और अहमद रज़ा हाशमी समेत कई वरिष्ठ पत्रकारों ने वर्कशाॅप के प्रतिभागियों को मेनस्ट्रीम और सोशल मीडिया जर्नलिज़्म की बारीकियों की जानकारी दी।

जमाअते इस्लामी हिन्द, बिहार के मीडिया विभाग द्वारा आयोजित इस वर्कशाॅप में पश्चिमी चम्पारण, सुपौल, सहरसा, भागलपुर, बांका, अररिया, दरभंगा, पूर्णिया, नालंदा, पूर्वी चंपारण और पटना जिले के सोशल मीडिया से जुड़े पत्रकारों ने हिस्सा लिया।

Share Now

Leave a Reply