दुआ है कि आपके हज पर जाने से कोरोना और नुकसान पहुचाने वाली चीजें खत्म होंः नीतीश

बिहार लोक संवाद डाॅट नेट, पटना। मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने बिहार के हज यात्रियों की रवानगी से पहले हज भवन, पटना में आयोजित दुआईया मजलिस में शिरकत की।
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हज यात्रियों की रवानगी के आयोजित इस कार्यक्रम में शामिल होकर बेहद खुशी हो रही है। पिछले दो वर्षों से कोरोना के कारण हज यात्रा में लोग नहीं जा सके थे। उन्होंने कहा कि आपके वहाँ जाने से कोरोना और जो नुकसान पहुंचाने वाली चीजें हैं, वह खत्म हो जायें, यही कामना है।
उन्होंने कहा कि हज यात्रा जाने वालों को मुबारकबाद देता हूं। आप पवित्र यात्रा पर पर जा रहे हैं। हज पर जाने की इच्छा सबकी होती है किन्तु जाते वही हैं, जिनको वहां से बुलावा आता है। मुझे बहुत खुशी हो रही है कि आप सबको वहां जाने का मौका मिला है। वहां जाकर दुआ मांगने से आपके अपने एवं आपके परिवार के साथ ही बिहार एवं देश होगा। आपस में प्रेम एवं भाईचारे का भाव रहेगा। वहाँ जाने से ऐसा वातावरण बनता है कि आपसी सौहार्द्र में बढ़ोतरी होती है और समाज, देश आगे बढ़ता है।
राज्य सरकार के 14 अधिकारियों एवं कर्मियों को भी वहां भेजा जा रहा है ताकि यात्रा एवं वहां रहने के दौरान हज यात्रियों को किसी प्रकार की कठिनाई नहीं हो।
दुआईया मजलिस को अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मोहम्मद जमां खान, मुख्य सचिव श्री आमिर सुबहानी एवं बिहार राज्य हज कमिटी के चेयरमैन अब्दुल हक ने भी संबोधित किया।

इस अवसर पर विधान पार्षद मो० खालिद अनवर खानकाह मुनीमिया मितनघाट के सज्जादानशीं हजरत मौलाना सैयद शमीमुद्दीन अहमद मुनअमी, बिहार सुन्नी वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष इरशादुल्ल्ला, बिहार शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष सैयद अफजल अब्बास, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ० एस० सिद्धार्थ, प्रधान सचिव अल्पसंख्यक कल्याण श्रीमती शफीना ए.एन., बिहार राज्य हज कमिटी के पूर्व चेयरमैन मो. इलियास हुसैन उर्फ सोनू बाबू बिहार राज्य अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व अध्यक्ष प्रो० युनूस हकीम, पूर्व विधायक मो. मुजाहिद आलम, प्रसिद्ध चिकित्सक डॉ. अब्दुल हई, बिहार राज्य हज समिति के सदस्य सैयद मिनहाजुद्दीन सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति, आजमीन ए हज एवं बिहार राज्य हज कमिटी से जुड़े लोग उपस्थित थे।

 544 total views

Share Now

Leave a Reply