गांधी मैदान में इस बार भी ईद की चहल-पहल नहीं

बिहार लोक संवाद डाॅन नेट पटना

नमाजियों की इतनी बड़ी भीड़ को देखकर हर किसी को अंदाजा हो सकता है कि यह ईद का मंजर है। ये मंजर पटना के गांधी मैदान का है। साल है 2019। तब न कोरोना वायरस का कोई अंदेशा था और न ही लाॅकडाउन की परेशानी। रमजान के पूरे रोजे रखने के बाद लोग गांधी मैदान में नमाज पढ़नाए आए थे। लेकिन साल 2021 में ईद के वक्घ्त गांधी मैदान का नजारा जुदा है। यहां सन्नाटा पसरा है और चारों तरफ लगभग खघमोशी तारी है। इसलिए कि बिहार में लाॅकडाउन लगा है और इसकी वजह से गांधी मैदान में नमाज पढ़ना मना है। कोविड-19 की जानलेवा महामारी की वजह से पिछले साल यानी 2020 में भी यहां ईद और बकरीद की नमाज नहीं हुई थी।

गांधी मैदान में नमाज पढ़ने की अपनी एक तारीखघ् है। यहां 1925 से ईद की नमाज हो रही है। मदरसा शम्सुलहोदा के प्रिंसिपल बहैसियत इमाम नमाज पढ़ाते आए हैं। मुख्यमंत्री समेत कई मंत्री और बड़े अधिकारी इस मौकेघ् पर गांधी मैदान आते रहे हैं और लोगों को ईद की मुबारकबाद देते रहे हैं।
लेकिन इस बार ईद की नमाज पर ही। ये अलग बात है कि पटना वासी गांधी मैदान वाली ईद की नमाज भूलते नहीं भूल पाते। ये उनके कल्चर-तहजीब का जो हिस्सा है। अब देखना है, अगले साल क्या होता है।

 840 total views

Share Now

Leave a Reply