छ्पी-अनछ्पी: 18वीं लोकसभा का पहला सत्र आज से, परीक्षा से पहले 100 छात्रों को मिला था ‘नीट’ का पर्चा

बिहार लोक संवाद डॉट नेट, पटना। 18वीं लोकसभा का पहला सत्र आज से शुरू हो रहा है जहां सरकार को एक मजबूत विपक्ष का सामना करना होगा। भास्कर ने अपनी खबर में लिखा है कि बिहार और झारखंड के 100 छात्रों को परीक्षा से पहले ‘नीट’ का पेपर मिल चुका था। सीबीआई ने नीट पेपर मामले की एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पटना में एक प्रॉपर्टी डीलर का मर्डर हुआ है जिसमें पटना की मेयर सीता साहू के बेटे को भी नामज़द किया गया है।

जागरण की खबर है: 18 वीं लोकसभा का पहला सत्र आज से, सरकार व विपक्ष में टकराव के आसार। परीक्षाओं में गड़बड़ी और प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति सहित कई मुद्दों पर विपक्षी दलों की नाखुशी के बीच 18वीं लोकसभा का पहला सत्र सोमवार से शुरू होने जा रहा है। यह सत्र 3 जुलाई तक चलेगा। सत्र के पहले दो दिन प्रोटेम स्पीकर भर्तृहरि महताब और उनके सहयोगी पीठासीन अधिकारियों द्वारा लोकसभा के नवनिर्वाचित सदस्यों को शपथ दिलाई जाएगी। हालांकि इससे पहले लोकसभा के प्रोटेम स्पीकर को राष्ट्रपति शपथ दिलाएंगी। विपक्षी दलों ने प्रोटेम स्पीकर पद पर सत्ता पक्ष के सदस्य की नियुक्ति को लेकर विरोध किया है और कहा है कि सदन में और भी वरिष्ठ सदस्य थे जिन्हें नियमों के तहत यह जिम्मेदारी दी जानी चाहिए थी पूर्ण राम 10 दिन चलने वाले लोकसभा के इस पहले सत्र में 26 जून को स्पीकर पद के लिए चुनाव होगा। साथ लगी तस्वीर सोनाक्षी सिन्हा और जहीर इकबाल की शादी की है।

परीक्षा से पहले 100 छात्रों को मिला था नीट का पेपर

भास्कर के अनुसार बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई ईओ ने नीत यूजी पेपर लीक केस की रिपोर्ट सौंप दी है। सूत्रों के मुताबिक इसमें कहा गया है कि 5 मई को सेंटर पहुंचने से पहले ही बिहार व झारखंड के 100 अभ्यर्थियों को नीट का पेपर मिल गया था। परीक्षा माफिया ने पटना में खेमनी चक स्थित लर्न एंड प्ले स्कूल में, बाईपास के पास एक होटल में और झारखंड के कुछ शहरों में सवाल जवाब छात्रों को रटवाए थे। इसके बाद माफिया ने ही अभ्यर्थियों को परीक्षा केंद्रों तक भिजवाया था।

नीट की सीबीआई जांच शुरू

प्रभात खबर की सबसे बड़ी खबर के अनुसार सीबीआई ने नीट यूजी के आयोजन में कथित अधिनियमिताओं की जांच सौंपने की घोषणा के अगले ही दिन रविवार को प्राथमिक की दर्ज कर ली। फिर केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से जारी संदर्भ के आधार पर अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 120 बी और 420 के तहत दर्ज की गई है। सीबीआई ने मामले को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए विशेष दल पटना और गोधरा भेजे हैं जहां पुलिस ने पेपर लीक के मामले दर्ज किए हैं। बिहार पुलिस ने अब तक बिहार और झारखंड से 18 लोगों को गिरफ्तार किया है।

ग्रेस मार्क्स वालों ने दोबारा दी परीक्षा

नीट-स्नातक में जिन 1,563 अभ्यर्थियों को पहले कृपांक (ग्रेस मार्क्स) दिए गए थे, उनमें से 813 अभ्यर्थी रविवार को दोबारा परीक्षा में शामिल हुए। लेकिन रविवार को वैसे 17 अभ्यर्थियों को परीक्षा देने से रोक दिया, जिन्होंने पांच मई को बिहार के केंद्रों पर परीक्षा दी थी। एनटीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर हुई इस परीक्षा में 1,563 उम्मीदवारों में से 813 ही शामिल हुए।

नेट धांधली की जांच करने गई सीबीआई टीम पर हमला

हिन्दुस्तान के अनुसार यूजीसी नेट धांधली मामले में छापेमारी के लिए नवादा के रजौली पहुंची सीबीआई दिल्ली की टीम पर भीड़ ने हमला कर दिया। सीबीआई अफसर और एक महिला कांस्टेबल के साथ हाथापाई व अभद्रता की गई। हमले में सीबीआई की गाड़ी का ड्राइवर गंभीर रूप से घायल हो गया। कार भी क्षतिग्रस्त हो गई। घटना शनिवार दोपहर बाद 350 बजे की है। सीबीआई टीम रजौली के मुरहेना गांव के कसियाडीह टोले के एक घर में छापेमारी कर दो मोबाइल व कुछ दस्तावेज जब्त कर लौट रही थी। इसी बीच 200-300 ग्रामीणों की उग्र भीड़ ने फर्जी सीबीआई समझकर टीम पर हमला कर दिया।

प्रॉपर्टी डीलर का मर्डर, मेयर का बेटा नामज़द

पटना के आलमगंज थाना क्षेत्र के जिला रोड में रविवार की सुबह 5:15 बजे अपराधियों ने जमीन कारोबारी अरुण कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी। अरुण के सीने, गले के ऊपर भाग और पीठ में आधा दर्जन गोलियां लगी। अरुण की पत्नी आशा कुमारी के बयान पर आलमगंज पुलिस ने देर रात प्राथमिक दर्ज की है। आशा ने पटना की मेयर सीता साहू के पुत्र शिशिर कुमार सहित नौ लोगों को नामज़द किया है।

अयोध्या का रामथ पहली बारिश में ही धंसा

जागरण के अनुसार रामनगरी अयोध्या के प्रवेश द्वार सआदतगंज से लेकर नयाघाट के बीच करोड़ों रुपए की लागत से नवनिर्मित राम पथ प्री मानसून बरसात भी नहीं झेल सका। यह जगह-जगह धंस गया है और इसके किनारे जल भराव भी हो गया है। इतना ही नहीं पुनर विकसित अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन की चारदीवारी भी पहली बरसात में ढह गई।

कुछ और सुर्खियां

  • पूर्वी चंपारण में डेढ़ करोड़ की लागत से बन रहा पुल ढहा
  • रूस में बंदूकधारियों ने चर्च और सेनेगॉग पर हमला कर सात को मार डाला
  • छत्तीसगढ़ के सुकमा में आईईडी ब्लास्ट में सीआरपीएफ के दो जवान की जान गई
  • अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर में बादल फटने से बाढ़, तबाही
  • मायावती ने भतीजे आकाश आनंद को फिर से बहुजन समाज पार्टी का राष्ट्रीय समन्वयक बनाया
  • दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल हाई कोर्ट द्वारा जमानत पर रोक लगाने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में देंगे अर्जी
  • बिहार में मौसम का मिजाज फिर पलटा, कई जिलों में हीट वेव का अलर्ट

अनछपी: अनछपी: हमारे समाज में दो अलग-अलग धर्म के लोगों के बीच शादी को सामान्य नहीं माना जाता लेकिन भारत की फिल्मी दुनिया के लिए यह कोई अनोखी बात नहीं है। ऐसे दर्जनों उदाहरण मौजूद हैं जब फिल्मी एक्टर और एक्ट्रेस अलग-अलग धर्म के होते हुए भी शादी के बंधन में बंधे हैं। आप कह सकते हैं कि उनकी दुनिया अलग है। हम इसकी चर्चा इसलिए कर रहे हैं कि कल ही बिहारी बाबू और शॉटगन के नाम से मशहूर शत्रुघ्न सिन्हा की एक्ट्रेस बेटी सोनाक्षी सिन्हा और फिल्म एक्टर जहीर इकबाल की सिविल मैरिज हुई है। इस शादी की चर्चा पिछले कई दिनों से चल रही थी हालांकि दोनों की दोस्ती 7 साल पुरानी बताई गई है। सोशल मीडिया पर जहां इस शादी के लिए लोग शत्रुघ्न सिन्हा और सोनाक्षी सिन्हा को बधाई दे रहे हैं तो वहीं कई ऐसे हिंदुत्ववादी समूह हैं जो उनकी तीखी आलोचना कर रहे हैं। इस शादी की चर्चा होते ही हिंदुत्ववादी शक्तियों ने इस पर यह कहकर सवाल उठाने शुरू कर दिया था कि एक हिंदू लड़की की शादी मुस्लिम से कैसे हो सकती है। सुनने में यह तर्क ठीक लग सकता है लेकिन स्थिति उलट जाए यानी लड़की मुस्लिम हो और लड़का हिंदू हो तो ऐसी शादी को इन्हीं हिंदुत्ववादी तत्वों का भरपूर समर्थन मिलता है। कहने का मतलब यह है कि शादी का समर्थन और विरोध उनकी नजर में इस बात पर निर्भर है कि लड़की किस धर्म की है। इसे इस बात से भी समझा जा सकता है कि जहीर इकबाल के पिता को यह बताना पड़ा कि सोनाक्षी सिन्हा धर्म परिवर्तन नहीं कर रही हैं। कई बार ऐसा होता है कि शादी दोनों धर्म के रीति रिवाज के अनुसार होता है लेकिन इस मामले में कहा गया कि किसी भी धर्म के रीति रिवाज का पालन नहीं किया जाएगा। भारत के कानून के हिसाब से देखा जाए तो धर्मनिरपेक्ष राज्य होने के नाते ऐसी शादी पर किसी को आपत्ति करने का हक नहीं है। समझने की बात यह है कि भारतीय फिल्म की दुनिया व्यक्तिगत संबंधों को बिल्कुल अलग तरीके से देखती है।

 339 total views

Share Now

Leave a Reply