बिहार सरकार नवादा जिले के ‘ख्वाजा कुआं’ का जीर्णाेद्धार कराएगी, राहुल गांधी को मिला महागठबंधन का साथ

बिहार विधान परिषद् से सैयद जावेद हसन

बिहार सरकार नवादा जिले के शेखपुरा के नरहट प्रखंड के अंतर्गत ग्राम शेखपुरा स्थित प्राचीन ‘ख्वाजा कुआं’ का जीर्णाेद्धार कराएगी। बिहार विधान परिषद् में भाजपा एमएलसी संजय पासवान ने आज सदन में कहा था कि ‘ख्वाजा कुआं’ जर्जर अवस्था में है और अनुपयोगी हो गया है। उन्होंने कुंए को पर्यटन स्थल घोषित किए जाने की मांग की।
जवाब में पंचायती राज मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सूखे और नष्ट हो चुके कुओं और तालाबों के जीर्णोद्धार के प्रति गंभीर हैं। मंत्री ने कहा कि जल जीवन हरियाली योजना के तहत ‘ख्वाजा कुआं’ का जीर्णोद्धार कराया जाएगा।
संजय पासवान ने मामले को उठाते हुए कहा था कि हिसुआ विधान सभा क्षेत्र की स्थानीय विधायिका नीतू कुमारी ने नवादा के उप विकास आयुक्त को पत्र लिखकर इस सार्वजनिक कुआं के जीर्णाेद्धार की मांग की अनुशंसा की है। परिषद् सदस्य ने यह भी कहा कि विश्व विख्यात सूफी ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के परिवार के सदस्य आज भी इस कुंए के आसपास रहते हैं।

राहुल गांधी को मिला महागठबंधन का साथ

प्रश्नकाल शुरू होते ही महागठबंधन के सदस्यों ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की ‘मोदी सरनेम पर टिप्पणी’ को लेकर लोकसभा की सदस्यता खत्म किए जाने को लेकर हंगामा किया।
कांग्रेस के डॉ. मदन मोहन झा ने कहा कि राहुल गांधी को चुप करने के लिए त्वरित कार्रवाई करते हुए लोकसभा से उनकी सदस्यता खत्म कर दी गई। हालांकि न्यायालय ने राहुल गांधी को तीस दिनों का समय दिया था। श्री झा ने कहा कि धीरे-धीरे सबको चुप कराया जा रहा है। यह लोकतंत्र के लिए खतरे की घंटी है।
जनता दल (यू) के नीरज कुमार ने कहा कि पहले जिस व्यक्ति ने न्यायायल में राहुल के खिलाफ मुकदमा चलाने की अनिच्छा जाहिर करते हुए ‘स्टे’ की मांग की थी, उसी व्यक्ति ने जब राहुल ने संसद में मोदी-अडानी के रिश्ते पर सवाल उठाया तो फिर से मुकदमा चलाने के लिए अर्जी दाखिल कर दी। नीरज कुमार ने कहा कि सदन को चिंता करनी चाहिए कि लोकतंत्र बचेगा या नहीं।
प्रो. गुलाम गौस ने कहा कि भाजप कहती है कि राहुल गांधी ने पिछड़ों का अपमान किया जबकि सच्चाई यह है कि केन्द्र की मोदी सरकार ने पिछड़ों के लिए स्कॉलरशिप बंद कर दिया।
राष्ट्रीय जनता दी के कारी मो. सोहैब ने कहा कि भाजपा को चाहिए कि जिन लोगों ने ‘कपड़ों से पहचाने जाते हैं’ और ‘देश के गद्दारों को, जूता मारो सालों को’ जैसा नारा लगाया, उनके खिलाफ भी कार्रवाई करनी चाहिए।

 814 total views

Share Now

Leave a Reply