छपी-अनछपी: 10वीं-12वीं के रिजल्ट में पिछली क्लासों के नंबर जुड़ेंगे, विधान परिषद में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी

बिहार लोक संवाद डॉट नेट, पटना। नेशनल करिकुलम फ्रेमवर्क में 10वीं और 12वीं क्लास के बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट में पिछले क्लासों के नंबर जोड़ने की तैयारी की खबर प्रमुखता से छपी है। विधान परिषद में भारतीय जनता पार्टी अब सबसे बड़ी पार्टी हो गई है। इस खबर को बेहतर कवरेज मिली है। दो बार रेपो रेट बढ़ाकर क़र्ज़ को महंगा करने के बाद आरबीआई ने अब कहा है कि फिलहाल यह और महंगा नहीं होगा। इस खबर को काफी अहमियत दी गई है।

भास्कर की सबसे बड़ी सुर्खी है: कक्षा 12 की परीक्षा दो हिस्सों में, 10वीं 12वीं के नतीजों में जुड़ेंगे पिछली कक्षाओं के नंबर। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने नेशनल करिकुलम फ्रेमवर्क एनसीएफ का मसौदा जारी कर दिया है। इसमें 12वीं की बोर्ड परीक्षा को 2 टर्म में लेने का प्रस्ताव है। 10वीं 12वीं के नतीजों में पिछली कक्षाओं के अंक जोड़ने की सिफारिश भी की गई है। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को ध्यान में रखकर तैयार इस फ्रेमवर्क में साइंस कॉमर्स और आर्ट्स के विभाजन को भी खत्म करने का प्रस्ताव है। नया फ्रेमवर्क सत्र 2024-25 से लागू हो सकता है।

लोन की किस्त
जागरण की सबसे बड़ी खबर है: फिलहाल महंगा नहीं होगा कर्ज। भास्कर की सुर्खी है: लोन की किस्त अभी नहीं बढ़ेगी, महंगाई घटने और जीडीपी बढ़ने का अनुमान। जागरण लिखता है कि होम लोन ऑटो लोन जैसे खुदरा बैंकिंग क़र्ज़ के और ज्यादा महंगा होने की संभावना फिलहाल खत्म हो गई है। गुरुवार को मौद्रिक नीति की समीक्षा करते हुए आरबीआई गवर्नर डॉ शशिकांत दास ने रेपो रेट की मौजूदा दर को 6.50% पर ही बनाए रखने का फैसला किया है। इससे उम्मीद की जा रही है कि ऑटोमोबिल से लेकर रियल स्टेट तक की मांग में वृद्धि हो सकती है।
भाजपा के सबसे ज़्यादा एमएलसी
भास्कर की दूसरी सबसे बड़ी खबर है: 8 जिलों में महागठबंधन के 40 एमएलए, फिर भी हारे दोनों सीट, जीत के साथ परिषद में भाजपा सबसे बड़ा दल। अखबार लिखता है कि विधान परिषद की शिक्षक व स्नातक की 5 सीटों के लिए 31 मार्च को हुए चुनाव के नतीजों के साथ ही भाजपा विधान परिषद में सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। सदन में भाजपा सदस्यों की संख्या 25 हो गई है जबकि जदयू के 23 सदस्य ही हैं। इस चुनाव में सबसे रोचक व कड़ा मुकाबला गया स्नातक सीट पर हुआ। इस सीट में मगध शाहाबाद के 8 जिले समाहित हैं और इसमें 43 एमएलए में 40 महागठबंधन के हैं। फिर भी भाजपा ने जदयू से गया शिक्षक सीट छीनी तो गया स्नातक सीटिंग सीट पर भाजपा के अवधेश नारायण सिंह ने राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद के छोटे पुत्र डॉक्टर पुनीत को हरा दिया। श्री सिंह छठी बार गया स्नातक सीट से जीते हैं।

इंजीनियर जानेंगे पानी की ज़रूरत
हिन्दुस्तान की सबसे बड़ी सुर्खी है: इंजीनियर गांव-गांव जाकर जल की आवश्यकता जानेंगे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि आहर, पईन नेटवर्क का काम बिहार के दक्षिणी इलाके में पांच हजार साल पहले शुरू हुआ था। जल संरक्षण को लेकर राज्य के लोगों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। उन्होंने निर्देश दिया कि विभाग के इंजीनियर गांव-गांव में जायें और जायजा लेते रहें कि जल संचयन को लेकर क्या-क्या काम करने की जरूरत है। वे वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से गुरुवार को लघु जल संसाधन विभाग के 715 करोड़ की 628 सतही सिंचाई और जल संचयन योजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यान करने के बाद अपनी बात कह रहे थे।

मोदी की नसीहत: अति आत्मविश्वास से बचें
हिन्दुस्तान की दूसरी सबसे बड़ी खबर है: अति आत्मविश्वास से बचकर रहें: मोदी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को भाजपा कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे अति आत्मविश्वास से बचकर रहें। उन्होंने कहा कि लोग अभी से कह रहे हैं कि वर्ष 2024 के लोकसभा चुनावों में भाजपा को कोई नहीं हरा सकता। लेकिन हमें सचेत रहना होगा और देश के हर नागरिक का दिल जीतना होगा। प्रधानमंत्री ने भाजपा के 44वें स्थापना दिवस समारोह को वर्चुअल माध्यम से देश भर के पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।

मनीष कशयप पर एनएसए
हिन्दुस्तान की खबर है: शिकंजा: मनीष कश्यप पर तमिलनाडु में लगा रासुका। यूट्यूबर मनीष कश्यप की मुश्किलें खत्म होती नजर नहीं आ रही है। तमिलनाडु में बिहार के प्रवासी मजदूरों पर हमले का फर्जी वीडियो प्रसारित करने आरोप में गिरफ्तार यूट्यूबर मनीष कश्यप पर तमिलनाडु में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका या एनएसए) के तहत मामला दर्ज किया गया है। मदुरै के पुलिस अधीक्षक शिव प्रसाद ने कहा कि मनीष कश्यप को एनएसए अधिनियम के तहत हिरायत में लिया गया है।

कुछ और सुर्खियां
● बिहार का दूसरा एथेनॉल प्लांट मोतीपुर में शुरू, यहां 13100 को मिलेगा रोजगार
● सट्टेबाजी से जुड़े ऑनलाइन गेम पर केंद्र ने पाबंदी लगाई
● सीआरपीएफ में 1.30 लाख कांस्टेबल भर्ती होंगे
● कांग्रेस नेता एके एंटनी के बेटे अनिल भाजपा में शामिल
● पटना के शास्त्री नगर में भीषण आग सिलेंडर फटने से थर्राया इलाका
● 8 अप्रैल से बिहार शरीफ सासाराम में इंटरनेट सेवा होगी बहाल
● जातीय गणना में सिख बौद्ध जैन और इसाई की गिनती अन्य श्रेणी में

अनछपी: ऑनलाइन गेमिंग से संबंधित नए नियम के तहत सट्टेबाजी और दांव लगाने से संबंधित किसी भी ऑनलाइन गेम को प्रतिबंधित कर दिया गया है। केंद्र सरकार ने यह बहुत ही जरूरी और अच्छा काम किया है। नए नियम में मीडिया संस्थानों को भी ऐसे गेम को बढ़ावा देने से परहेज करने की सलाह दी गई है। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इनके विज्ञापनों को लेकर भी चेतावनी जारी की है। सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने बिल्कुल सही सलाह दी है कि मीडिया संस्थाओं, मीडिया प्लेटफॉर्म और ऑनलाइन विज्ञापन मध्यस्थ सट्टेबाजी प्लेटफॉर्म के विज्ञापन व प्रचार सामग्री को प्रसारित करने से बचें। समाज में मीडिया के दुष्प्रभाव के बारे में बहुत चर्चा होती है लेकिन उसके विज्ञापनों पर चर्चा कम ही होती है। ध्यान से देखा जाए तो ठगी की बड़ी घटनाएं ऐसे कपट पूर्ण विज्ञापनों से होती हैं। सिर्फ धोखाधड़ी नहीं गुटखा जैसे खतरनाक चीजों का प्रचार भी अखबारों में धड़ल्ले से होता है। ऐसे विज्ञापनों में कानूनी पकड़ से बचने के लिए एक छोटी सी चेतावनी दी जाती है कि इसमें सावधानी बरतें लेकिन वास्तव में यह चेतावनी बहुत काम नहीं आती। भारत में बेरोजगारों की इतनी बड़ी फौज के रहते हुए सट्टेबाजी में पैसे कमाने के लालच की आशंकाएं बहुत ज्यादा हैं। इस लालच में इंसान ना सिर्फ पैसे कमाता है बल्कि कई बार जान भी गंवानी पड़ती है। ऑनलाइन सट्टेबाजी से पैसे कमाने की चाहत वास्तव में एक सामाजिक बुराई है जिस पर पाबंदी लगाकर केंद्र सरकार ने बेहतरीन काम किया है। सरकार ने ऐसे विज्ञापनों से बचने की सलाह तो दी है लेकिन जरूरत इस बात की है कि से उसे पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया जाए।

 876 total views

Share Now

Leave a Reply