Sulli Deals : मुस्लिम औरतों के खिलाफ नफरत फैलाने वाला BIHARI निकला

बिहार लोक संवाद डॉट नेट

सुल्ली डील ऐप के जरिये मुस्लिम औरतों के खिलाफ नफरत फैलाने वाले मास्टरमाइंट की गिरफ्तारी के मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है। दिल्ली पुलिस ने इंदौर से जिस 26 वर्षीय ओमकारेश्वर ठाकुर को गिरफ्तार किया है, उसके बारे में बताया जा रहा है कि वह मूल रूप से बिहार का रहने वाला है। ओमकारेश्वर ने ही पिछले साल जुलाई में सुल्ली डील ऐप बनाकर गिटहब पर अपलोड किया था। सुल्ली डील ऐप पर 90 से ज्यादा भारतीय मुस्लिम महिला पत्रकारों और सामाजिक कार्यकर्ताओं की आपत्तिजनक तस्वीरें आलोड करके उनकी ऑनलाइन बोली लगाई जाती थी। इसका शीर्षक होता था, ‘डील ऑफ दी डे।’ गिरफ्तार ओमकारेश्वर ने अपना गुनाह कबूल करते हुए कहा है कि वह ट्वीटर पर टेªड महासभा गु्रप में शामिल था। इसी ग्रुप में मुस्लिम महिलाओं को ऑनलाइन ट्रोल करने पर चर्चा हुई थी। इसके बाद ही उसने सुल्ली डील ऐप बनाया था। इस ऐप के खिलाफ ‘दी वायर’ से जुड़ी एक महिला पत्रकार ने दिल्ली पुलिस से शिकायत की थी।

सुल्ली डील ऐप के मास्टरमाइंड ओमकारेश्वर का परिवार पिछले 32 वर्षों से इंदौर में रह रहा है। मूल रूप से यह परिवार बिहार के दरभंगा जिले का रहने वाला है। ओमकारेश्वर के पिता अखिलेश कुमार ठाकुर एक प्लास्टिक कंपनी में काम करते हैं। ओमकारेश्वर ने 2017-18 में आईपीएस एकैडमी से बीसीए किया है।

इससे पूर्व, सुल्ली डील जैसे ही ऐप बुल्ली बाई मामले में महाराष्ट्र पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार लोगों में 21 वर्षीय मयंक रावत, 18 वर्षीय श्वेता सिंह और 21 वर्षीय विशाल कुमार झा शामिल हैं। बुल्ली बाई ऐप पर भी 100 से ज्यादा सोशल मीडिया पर सक्रिय मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें अपलोड करके ऑनलाइन बोली लगाई जाती थी और आपत्तिजनक कमेंट्स किए जाते थे। होस्टिंग प्लेटफार्म गिट हब ने इन दोनों ऐप्स को डीलीट कर दिया है।

इतने कम उम्र नवजवानों के जरिये मुस्लिम औरतों के खिलाफ देश में फैलाए जा रहे जहर पर समाज के विभिन्न वर्गों में गंभीर चिंता व्यक्त की जा रही है। बिहार लोक संवाद डॉट नेट, पटना।

Share Now

Leave a Reply