बिहार में धर्मस्थलों को खोलने की उठी मांग

बिहार लोक संवाद डाॅट नेट पटना

बिहार की पूरी मशीनरी अब नये कोरोना गाइडलाइन के तहत काम कर रही है। नये गाइडलान के अनुसार ही बाजार सज रहे हैं और सड़कों पर गाड़ियां चल रही हैं। कुछ जगहों को सीमित मानव संख्या के साथ खोला गया है तो कुछ को बंद करने का आदेश दिया गया है। इनमें मंदिर-मस्जिद, गिरजाघर और गुरुद्वारा शामिल हैं।

बिहार के प्रतिष्ठित मुस्लिम धार्मिक संस्थाओं और धर्मगुरुओं ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से प्रदेश के धर्मस्थलों को खोलने की अपील की है। इसकी जानकारी देते हुए जमाअते इस्लामी हिन्द, बिहार के प्रदेश अध्यक्ष मौलाना रिज़वान अहमद इस्लाही ने बताया कि शनिवार को मुस्लिम धर्मगुओं की एक आॅनलाइन बैठक आयोजित की गई थी। बैठक के दौरान फ़ैसला किया गया कि जल्द ही एक प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भेंट करके धर्मस्थलों को बंद करने संबंधी फैसले पर पुनर्विचार करने का अनुरोध करेगा।

दूसरी तरफ लोगों ने नये गाइडलाइन पर मिश्रित प्रतिक्रिया व्यक्त की है। कुछ लोगों ने दुकानें बंद करने के समय को और बढ़ाने का आग्रह किया।

अब देखना है सरकार ने जो नया गाइडलाइन जारी किया है, उसपर लोग कितना अमल करते हैं, कोरोना संक्रमण पर कितना काबू पाया जाता है और सरकार भविष्य में कितनी ढील देती है या सख्ती बरतती है।

 326 total views

Share Now

Leave a Reply