आईजीआईएमएस में कोरोना संक्रमितों का होगा मुफ्त इलाज, बिहार के लिए आॅक्सीजन का बढ़ाया गया कोटा

बिहार लोक संवाद डाॅट नेट पटना
पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (आईजीआईएमएस) में कोविड-19 के सभी संक्रमितों का मुफ्त इलाज किया जाएगया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तेजी से बढ़ते कोरोना मामलों को ध्यान में रखते हुए शुक्रवार को यह घोषणा की।
नीतीश कुमार ने कहा है कि चिकित्सीय सेवाओं और दवाओं पर हुए खर्च का वहन राज्य सरकार करेगी।

मुख्यमंत्री ने एक अन्य ट्वीट के माध्यम से यह जानकारी भी दी कि सभी जिलों के अस्पतालों में उपलब्ध वेन्टीलेटर को शीघ्र क्रियाशील करने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि यह कार्य सरकारी प्रयास या निजी क्षेत्र की संयुक्त भागीदारी से सुनिश्चित किया जा सकेगा।

ऑक्सीजन आपूर्ति का बढ़ाय गया कोटा
इस बीच सांसद सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रयास और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हस्तक्षेप के बाद बिहार के लिए प्रतिदिन 194 मीट्रिक टन ऑक्सीजन आपूर्ति का कोटा निर्धारित किया गया है। उन्होंने कहा कि निर्धारित कोटा के तहत सात स्थानों झारखंड के बोकारो से 70 और जमशेदपुर से 50 मीट्रिक टन, पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर और बर्नपुर से 40 मीट्रिक टन तथा बिहार के अपने संसाधनों से 34 मीट्रिक टन की प्रतिदिन मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति होगी। इसके साथ ही केंद्र सरकार ने देश के जिन 19 राज्यों के लिए 6722 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का आवंटन किया है, उसमें अब बिहार को भी शामिल कर लिया गया है।

रेमडेसिविर की होगी आपूर्ति
उन्होंने यह भी बताया कि एक-दो दिनों के अंदर बिहार के लिए निर्धारित रेमडेसिविर के 24500 वायल की पांच निर्माता कम्पनियों की ओर से आपूर्ति भी शुरू हो जाएगी।

सुशील मोदी ने बताया कि केंद्र सरकार की ओर से बिहार के लिए रेमडेसिविर की निर्धारित 24500 वायल की आपूर्ति पांच निर्माता कम्पनियों कैडिला ( 14 हजार), हैटीरो (6.5 हजार), मिलोन (6एक हजार), सिप्ला (दो हजार) और जुबिलेंट (एक हजार) अगले एक-दिनों में शुरू हो जाएगी।

 520 total views

Share Now

Leave a Reply