नरेन्द्र मोदी ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में रमज़ान-रामनवमी का किया ज़िक्र, कहा, ‘कोशिश कीजिए देश में लाॅकडाउन न लगे’

सैयद जावेद हसन, बिहार लोक संवाद डाॅट नेट पटना

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने  कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति पर मंगलवार की शाम देश को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि
हम सभी का प्रयास जीवन बचाने के लिए है। श्री मोदी ने कहा कि हमें देश को लाॅकडाउन की स्थिति से बचाना है।
राज्य लाॅकडाउन को अंतिम विकल्प के रूप में लें।

अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री ने मुसलमानों के पवित्र महीना रमज़ान का भी ज़िक्र किया। उन्होंन कहा कि आज रमजान का सातवां दिन है। रमजान र्धर्य और अनुशासन की सीख देता है। उन्होेंने कहा कि कोरोना को परास्त करने में धैर्य औन अनुशासन की बड़ी भूमिका है।

प्रधानमंत्री रामनवमी का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि कल रामनवमी का आखिरी दिन है। हम सभी कोरोना को परास्त करने में मर्यादा पुरूषोत्तम की मर्यादा का पालन करें।

प्रधानमंत्री मोदी के भाषण की अन्य मुख्य बातें इस प्रकार हैं:
– राज्यों ओर केन्द्र सरकार के प्रयास से श्रमिकों केा भी वैक्सीन मिलेगी।
– राज्यों से अपील है कि वे अपने श्रमिकों से कहें कि वे जहां हैं, वहीं रहें। उन्हें वैक्सीन भी मिलेगी और काम भी।
– हमारे डाॅक्टरों ने कोरोना के अलाज का एक्सपरटाइज हासिल कर लिया है।
– आज हमारे पास पर्याप्त मात्रा में पीपीई किट है।
– पहले दस करोड़, फिर ग्यारह करोड़ और अब बारह करोड़ लोगों को वैक्सीन दिया जा चुका है।
– 1 मई के बाद से 18 वर्ष से ऊपर के किसी भी व्यक्ति को वैक्सीन दिया जा सकेगा।
– जनभागीदारी की ताकत से हम कोरोना के इस तूफान को परास्त कर देंगे।
– देशवासियों से अपील करता हूं कि वे आगे आएं और जरूरतमंदों को मदद पहुंचाएं।
– युवा साथियों से अनुरोध है कि अपनी सोसायटी, काॅलोनी, मुहल्ले में छोटी-छोटी कमिटी बनाकर कोविड गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित कराएं।
– बाल मित्र घर में ऐसा माहौल बनाएं कि घर के लोग बिना जरूरत बाहर न निकलें।
– प्रचार माध्यम अपने प्रयास को और बढ़ाएं।

 437 total views

Share Now

Leave a Reply