छपी-अनछपी: रामचरित मानस विवाद से सरकार गिराने की चाल? आरएसएस के दफ्तर नहीं जा सकता: राहुल

बिहार लोक संवाद डॉट नेट, पटना। यह कहना मुश्किल है कि शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर के रामचरित मानस संबंधी बयान से उपजा विवाद खत्म होगा या जारी रहेगा, लेकिन ऐसा लगता है कि इसी बहाने नीतीश सरकार को गिराने की चाल चली जा रही है। भाजपा के एक सांसद का महाराष्ट्र जैसा कांड बिहार में कराने के दावे और जदयू के कुछ नेताओं के बयान ऐसा संकेत देते हैं। इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की बात अखबारों में छाई हुई है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने चचेरे भाई वरुण गांधी और आरएसएस की विचारधारा पर काफी अहम बयान दिया है जिसे अखबारों ने दबा दिया है।

हिन्दुस्तान की पहली खबर है: महागठबंधन में अनर्गल बयानों पर लगेगा अंकुश। जागरण की सबसे बड़ी सुर्खी भी यही है: रामचरितमानस के मसले पर मंत्री को समझा चुके: सीएम। भास्कर ने लिखा है: रामचरितमानस पर विवाद फालतू चीज किसी के धर्म में हस्तक्षेप न करें: नीतीश। हिन्दुस्तान के अनुसार: महागठबंधन के तीन बड़े दलों ने मंगलवार को साफ कर दिया कि बयानवीरों के अनर्गल बयान से महागठबंधन की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ा है। सरकार अपना काम कर रही है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और भाकपा माले के महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने अनर्गल बयानबाजी की अपने-अपने अंदाज में निंदा की है। दीपंकर भट्टाचार्य ने इस तरह के बयान पर रोक लगाने की मांग के साथ ही कहा कि गठबंधन में सभी मुद्दों पर विचार के लिए महागठबंधन के दलों की एक समन्वय समिति बननी चाहिए। नीतीश कुमार मंगलवार को अरवल और जहानाबाद की समाधान यात्रा पर थे। इस दौरान मीडिया के सवाल पर उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर को बयान वापस लेने के लिए कहा था। किसी भी धर्म पर बयान देना उचित नहीं है। राजद के संदर्भ में उपेंद्र कुशवाहा के बयान पर मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे जानकारी नहीं है।

शराब तस्करों की करतूत

भास्कर की सबसे बड़ी खबर है: शराब तस्करों ने नदी में लगाई छलांग, पीछे से जवान भी कूदा तो उसे डुबोकर मार डाला। जागरण में भी यह खबर पहले पेज पर है: मुजफ्फरपुर में छापे के लिए गए जवान को शराब धंधेबाज़ों ने नदी में डुबोकर मार डाला। जागरण के अनुसार सकरा प्रखंड के दरधा स्थित बूढ़ी गंडक नदी में सोमवार की देर रात शराब धंधेबाजों ने उत्पाद विभाग के जवान दीपक कुमार को डुबोकर मार डाला। अन्य जवानों ने पकड़ने की कोशिश की मगर शराब के धंधेबाज़ नदी के रास्ते तैर कर भाग निकले। जवान भागलपुर जिले का रहने वाला था।

राहुल, वरुण और आरएसएस

जागरण की एक सुर्खी है: मैं वरुण को गले लगा सकता पर उनकी विचारधारा स्वीकार नहीं। भारत जोड़ो यात्रा के दौरान मंगल को पंजाब के होशियारपुर में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मीडिया से कई मुद्दों पर खुलकर बात की। उनसे पूछा गया कि भाजपा नेता वरुण गांधी आपके भाई हैं क्या उनसे भी मिलकर चलने की बात की जाएगी। इस पर उन्होंने कहा कि वे भाजपा में हैं, आगे साथ चलेंगे तो उनको दिक्कत होगी जाएगी। राहुल ने कहा: मेरी विचारधारा, उनकी विचारधारा से नहीं मिलती। मैं कभी आरएसएस के दफ्तर नहीं जा सकता, इसके लिए आपको पहले मेरा गला काटना पड़ेगा। जहां तक परिवार की बात है मैं उन्हें प्यार से गले लगा सकता हूं लेकिन उनकी विचारधारा को स्वीकार नहीं कर सकता।

शहबाज़ शरीफ़ ने जो क़ुबूल किया

हिन्दुस्तान में पहले पेज पर खबर है: पाक प्रधानमंत्री को पछतावा भारत से लड़ सिर्फ गरीबी मिली। अखबार लिखता है: बेतहाशा महंगाई और राजनीतिक अस्थिरता से जूझ रहे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने भारत से हुए तीन युद्धों को लेकर पछतावा जताया है। उन्होंने कहा, जंग लड़कर हमें सिर्फ गरीबी और बेरोजगारी मिली है। हमने सबक सीखा है। अब हम शांति से रहना चाहते हैं। पाक पीएम ने कहा, भारत-पाक पड़ोसी देश हैं और उन्हें साथ ही रहना है। यह हमारे ऊपर है कि हम शांति से रहें और प्रगति करें या आपस में झगड़ा कर समय एवं संसाधन बर्बाद करें। पाक प्रधानमंत्री ने दुबई स्थित अल अरबिया समाचार चैनल के साथ एक साक्षात्कार में कश्मीर समेत विभिन्न मुद्दों के हल के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वार्ता का संदेश भेजा है। उन्होंने कहा कि हम ज्वलंत मुद्दों के हल के लिए गंभीरता से विचार करें। संयुक्त अरब अमीरात वार्ता में अहम भूमिका निभा सकता है।

किन्नरों की इंसानियत

भास्कर की एक सुर्खी है: ट्रेन में दर्द से कराह रही प्रसूता का लोग बनाते रहे वीडियो, तभी वॉशरूम ले जाकर किन्नरों ने कराया प्रसव, ट्रेन में बैठे लोगों से कहा तुमसे अच्छे हम। हिन्दुस्तान के अनुसार: यह मामला जमुई के झाझा-सिमुलतला स्टेशन के बीच का है। मंगलवार शाम को अप हावड़ा-पटना शताब्दी एक्सप्रेस में पति संग सफर कर रही एक गर्भवती महिला को अचानक तेज प्रसव पीड़ा होने लगी। बोगी में सवार अन्य महिलाएं भी पेशोपेश में थीं। तभी बोगी में किन्नरों की एक टोली आ धमकी। मामला समझने के बाद तत्काल किन्नरों की टोली ने महिला को अपने घेरे में लिया और बोगी के शौचालय में ले जाकर महिला का सुरक्षित प्रसव किया। अचानक बोगी में नवजात बच्चे की किलकारी सुनकर लोग चहक उठे।

कुछ और सुर्खियां

  • बिहार के 18 जिलों में न्यूनतम पारा गिरा अभी ठंड से राहत नहीं मिलेगी
  • बेवजह बयानबाजी से बचें: प्रधानमंत्री
  • लोस चुनाव में 400 दिन शेष, मतदाताओं की सेवा में जुटे (पीएम मोदी)
  • लोकसभा चुनाव तक भाजपा अध्यक्ष बने रहेंगे जेपी नड्डा
  • पटना में क्रिकेट सट्टेबाजी में युवक की गोली मारकर हत्या
  • छह दशक में पहली बार चीन की जनसंख्या में गिरावट
  • क्रूज़ के विदेशी सैलानियों ने किया बिहार के इतिहास का दर्शन
  • खुलासा: डॉन दाऊद इब्राहिम पाकिस्तान का दामाद बना

अनछपी: लगतार दो चुनावों के बाद से सरकार से बाहर चल रही कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ही एक ऐसे नेता है जो आरएसएस यानी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बारे में खुलकर अपने विचार रखते हैं। हाल के दिनों में उनके चचेरे भाई यानी संजय गांधी और मेनका गांधी के बेटे वरुण गांधी का भाजपा के शीर्ष नेतृत्व से बहुत अच्छा संबंध नजर नहीं आता है। वरुण गांधी के कांग्रेस में शामिल होने या न होने का फैसला तो देर से लिया जाएगा लेकिन उनकी विचारधारा के बारे में राहुल गांधी की स्पष्ट राय अखबारों में दबा दी गई है। संघ को लेकर कांग्रेस के भी बहुत से नेता नरम रवैया रखते हैं। विपक्षी नेताओं में ममता बनर्जी भी हालांकि भाजपा से दूरी की बात करती हैं लेकिन उनके मुंह से भी संघ की तारीफ सुनी जा चुकी है। राहुल गांधी जितने साफ तौर पर कांग्रेस की विचारधारा से अपनी दूरी बयान करते हैं, इस समय देश का शायद ही कोई बड़ा नेता उस तरह से बात करता हो। अधिकतर हिन्दी अखबारों के संपादक आरएसएस की विचारधारा के प्रशंसक नजर आते हैं इसीलिए संघ की आलोचना वाली खबरें वहां कम नजर आती हैं। यही कारण है कि राहुल गांधी के बयान का वह हिस्सा जिसमें वरुण गांधी की चर्चा है, सुर्खी बनी है और आरएसएस वाले हिस्से को दबा दिया गया है। कहने को तो यह भी कहा जा सकता है कि सवाल वरुण गांधी पर था इसीलिए उसे तवज्जो दी गई लेकिन वास्तविकता यह नहीं है। वास्तविकता यह है कि संघ का हिंदी अखबारों पर वैचारिक नियंत्रण है।

 926 total views

Share Now

Leave a Reply