छपी-अनछपी: अर्जेंटीना ने जीता वर्ल्ड कप, भट्टी बिहार के नए डीजीपी, निकाय चुनाव में 5% कम वोटिंग

बिहार लोक संवाद डॉट नेट, पटना। विश्व कप फुटबॉल प्रतियोगिता में फ्रांस को हराकर अर्जेंटीना के चैंपियन बनने की खबर सभी अखबारों में प्रमुखता से ली गई है। आर एस भट्टी बिहार के नए डीजीपी होंगे, यह खबर भी सभी अखबारों में पहले पन्ने पर है। शहरी निकायों के लिए हुए चुनाव के प्रथम चरण में करीब 60% वोट डाले जाने की खबर भी अखबारों ने प्रमुखता से ली है। यह 2017 से 5% कम वोटिंग है।

जागरण की सबसे बड़ी हेडिंग है: मेसी के दम पर अर्जेंटीना चैंपियन। भास्कर की पहली खबर भी यही है: अर्जेंटीना चैंपियन; यूरोप का तिलिस्म ध्वस्त। हिंदुस्तान ने लिखा है: अर्जेंटीना 36 साल बाद फुटबॉल का विश्व चैंपियन। इसने अंदर सुर्खी लगाई है महानतम में से की मुट्ठी में। अखबारों के अनुसार लगभग 80 मिनट दो गोल से आगे रहने के बाद अर्जेंटीना ने लगातार अपनी बढ़त गंवा दी और फ्रांस ने एमबापे के दो गोल से बराबरी प्राप्त कर ली। निर्धारित 90 मिनट तक बराबरी के बाद 30 मिनट के अतिरिक्त समय में पहले अर्जेंटीना ने लियोनेल मेसी के गोल से 3-2 की बढ़त ली लेकिन कुछ ही देर के बाद एमबापे ने एक और गोल कर फ्रांस को दोबारा 3-3 की बराबरी दिला दी। इसके बाद पेनाल्टी शूट आउट हुआ जिसमें एक बार फिर एमबापे ने फ्रांस के लिए गोल से शुरुआत की। अर्जेंटीना के लियोनेल मेसी ने गोल कर स्कोर फिर बराबर कर दिया। इसके बाद फ्रांस के 2 खिलाड़ियों ने पेनल्टी किक मिस कर दी जिससे अर्जेंटीना को पेनल्टी शूट आउट में 4-2 से जीतने में आसानी हुई।
आरएस भट्टी नए डीजीपी
हिन्दुस्तान की पहली खबर है: आरएस भट्टी बने बिहार के डीजीपी। भास्कर की सुर्खी है: महिला एसआई से गिरफ्तार करा शहाबुद्दीन का दंभ तोड़ने वाले भट्टी राज्य के नए डीजीपी। छपरा में अपहृत एक डॉक्टर पुत्र को मुक्त कराने और सीवान में राजद के पूर्व सांसद शहाबुद्दीन को गिरफ्तार करने से सुर्खियों में आए राजविंदर सिंह भट्टी (आरएस भट्टी) 1990 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं जो फिलहाल सीमा सुरक्षा बल में अपर महानिदेशक (पूर्वी कमांड) के पद पर तैनात हैं। वर्तमान डीजीपी 1988 बैच के आईपीएस संजीव कुमार सिंघल का कार्यकाल 19 दिसंबर 2022 को समाप्त हो रहा है। आरएस भट्टी इस पद पर अगले आदेश तक के लिए पदस्थापित किए जायेंगे। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद के स्तर से इसकी अधिसूचना रविवार को जारी कर दी गयी है। भट्टी का कार्यकाल 30 सितंबर, 2025 तक का है। भट्टी अभी दिल्ली में ही हैं। डीजीपी बनने की इस अधिसूचना के जारी होने के बाद सोमवार (19 दिसंबर) को उन्हें गृह मंत्रालय विरमित करने का आदेश जारी करेगा। फिर डीजी बीएसएफ के स्तर से उन्हें पद से मुक्त करने का आदेश जारी किया जायेगा। इसके बाद उनके देर शाम तक पटना पहुंचकर पदभार ग्रहण करने की संभावना है। वे 19 20 दिसंबर को वे पदभार ग्रहण करेंगे।

महिलाओं ने की ज़्यादा वोटिंग 
जागरण की हेडिंग है: निकाय चुनाव के पहले चरण में 59.62% हुई वोटिंग। हिन्दुस्तान ने लिखा है: 156 निकायों में नगर सरकार के लिए महिलाओं ने दिखाया दम। शिवहर को छोड़कर प्रदेश के 37 जिलों में पहले चरण में 156 नगर निकायों में 59.62 मतदान हुआ। पुरुषों से अधिक महिलाओं ने वोटिंग की। 59.33 महिला व 57.34 पुरुषों ने वोट डाले। अरवल में सर्वाधिक 67.71 और बांका में सबसे कम 45.78 फीसदी मतदान हुआ। पटना के 12 नगर निकायों में 61% वोट पड़े।
मतगणना 20 दिसंबर को होगी। राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त डॉ. दीपक कुमार ने कहा कि छिटपुट शिकायतों के बीच मतदान शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ। उन्होंने बताया कि पिछले निकाय चुनाव में इन सभी सीटों पर करीब 65 फीसदी मतदान हुआ था।
मोदी का उत्तर पूर्व भारत का दौरा 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उत्तर भारत दौरे के बारे में हिन्दुस्तान की सुर्खी है: डंके की चोट पर सीमा तक बना रहे सड़क: मोदी। जागरण ने लिखा है: हिंसा और भ्रष्टाचार को दिखाया रेड कार्ड। अखबारों के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को शिलांग में कहा कि आज डंके की चोट पर देश की सीमा पर हवाई पट्टी, नई सड़कें, टनल, पुल और रेल लाइन बनाने का काम चल रहा है। हमारे लिए पूर्वोत्तर सुरक्षा और समृद्धि का प्रवेश द्वार है। इसके बाद मोदी अगरतला गए, जहां उन्होंने रोड शो और जनसभा को संबोधित किया। पूर्वोत्तर परिषद की स्वर्ण जयंती पर शिलांग में जनसभा में प्रधानमंत्री ने कहा, लंबे समय तक देश में ये सोच रही कि सीमा क्षेत्र में विकास और संपर्क बढ़ने से दुश्मन को फायदा होगा। इसी के कारण पूर्वोत्तर समेत देश के सीमावर्ती क्षेत्रों में संपर्क बेहतर नहीं हो पाया, लेकिन आज डंके की चोट पर विकास हो रहा है।

कोहरे का असर
कोहरे की वजह से दिल्ली से पटना की फ्लाइट को भोपाल डायवर्ट करने की खबर सभी अखबारों में है। भास्कर ने लिखा है: पटना में 20 मिनट का चक्कर काट विमान भोपाल डायवर्ट। रविवार को कोहरे की वजह से विज़िबिलिटी कम होने के चलते दिल्ली-पटना विमान को जहां भोपाल डायवर्ट करना पड़ा। वहीं मुंबई से दरभंगा जा रहे विमान को कमजोर दृश्यता की वजह से पटना में उतरना पड़ा। दोनों विमानों के यात्री बाद में अपने गंतव्य तक विभिन्न माध्यमों से भेज दिये गये।

अनछपी: बिहार में डीजीपी की तैनाती एक अहम खबर बनती है लेकिन देखने की बात यह है कि इससे विधि व्यवस्था पर क्या फर्क पड़ता है। साथ ही यह भी देखना दिलचस्प होता है कि आम लोगों की शिकायतें पुलिस कितनी दूर कर पाती है। रिटायर होने जा रहे डीजीपी एस के सिंघल के नाम ऐसी कोई उपलब्धि नहीं रही है जो जनता को बहुत पसंद आई हो। उलटे उनका नाम इसलिए विवादों में रहा है कि गया कि अभी फरार चल रहे आईपीएस ऑफिसर आदित्य कुमार ने पटना हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस के नाम पर फर्जी कॉल करा कर उनसे अपना निलंबन वापस कराना चाहा था। यह सवाल अब भी बरकरार है कि एक डीजीपी कैसे किसी फर्जी कॉल का शिकार हो सकता है। इस फर्जीवाड़े का भांडा तब फूटा था जब इसी तरह की एक कॉल मुख्यमंत्री आवास को भी की गई थी। निलंबित आईपीएस आदित्य कुमार तो अब तक भगोड़ा ही है। नए डीजीपी को न सिर्फ अपने विभागीय लोगों पर नियंत्रण रखने की जरूरत होगी बल्कि उनसे यह उम्मीद की जानी चाहिए कि पुलिस पब्लिक फ्रेंडली बनेगी और उनकी मदद के लिए पुलिस का नाम सामने आएगा। हो सकता है यह उम्मीद बहुत ज्यादा हो लेकिन पुलिस की छवि बिहार में इतनी खराब है कि ऐसी उम्मीद की जाए तो शायद इसका कुछ हिस्सा पूरा हो जाए।

 652 total views

Share Now

Leave a Reply