Trained Librarians ने दी आत्मदाह की धमकी

बिहार लोक संवाद डॉट नेट

बिहार सरकार अपने नवजवानों के केरियर के साथ किस तरह खिलवाड़ कर रही है, इसका एक उदाहरण बेरोजगारी झेल रहे ट्रंड लाइब्रेरियंस हैं। हजारों की संख्या में ये नवजवान 2008 से अपनी बहाली का इंतेजार कर रहे हैं। धरना-प्रदर्शन होने पर सरकार उनकी बहाली का वादा करती है लेकिन फिर मामले को ठंडे बस्ते में डाल देती है। इसकी वजह से नियुक्ति के लिए जरूरी कई उम्मीदवारों की उम्र समाप्त हो गई है। इससे तंग आकर लाइब्रेरी साइंस किए नवजवनों ने बुधवार को पटना स्थित गर्दनीबाग में धरना-प्रदर्शन कर अपना आक्रोश प्रकट किया।

नवजवानों की हौसला अफजाई के लिए विधानसभा पुस्तकालय समिति के अध्यक्ष सुदामा प्रसाद, विधायक संदीप सौरभ और महबूब आलम धरना प्रदर्शन में शरीक हुए।

बिहार लोक संवाद डॉट नेट से बातचीत करते हुए ऑल बिहार ट्रेंड लाइब्रेरी एसोसिएशन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनीष और लाइब्रेरी पद की उम्मीदवार ममता कुमारी ने सरकार की नीयत पर सवाल उठाया।

आपको बताते चलें कि एसोसिएशन की तरफ से 12 अगस्त को नेशनल लाइब्रेरी डे के अवसर पर पटना में एक सम्मेलन का आयोजन किया गया था। इस अवसर पर ट्रंड लाइब्रेरियंस ने अपनी मांगों को दोहराया था।

 462 total views

Share Now

Leave a Reply